अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

म्यांमार में लौट रही है पटरी पर जिंदगी

म्यांमार के इरावदी डेल्टा क्षेत्र में ‘नरगिस’ तूफान के कारण बेघर हुए लाखों लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाने का काम शुरू कर दिया गया है। संयुक्त राष्ट्र की आपातकालीन सहायता का पहला पैकेज तूफान पीड़ित इलाके में भेज दिया गया है। म्यांमार में संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम की निदेशक क्रिस काये ने बताया कि खाद्य सामग्री से लदा हुआ पहला ट्रक बुधवार को तटीय कस्बे लाबुट्टा के लिए रवाना कर दिया गया। तूफान से इलाके में 1000 लोगों की जान गई थी। काये ने कहा कि यंगून और उसके आसपास उन लोगों तक खाद्य सहायता पहुंचनी शुरू हो गई है, जो बिना आसरे के और बिना संसाधनों के रह रहे हैं। समाचार एजेंसी डीपीए के अनुसार विश्व खाद्य कार्यक्रम के यांगून स्थित गोदाम में 800 मीट्रिक टन से अधिक अनाज उपलब्ध है। इससे पहले मंगलवार को थाइलैंड से चिकित्सकीय और खाद्य सामग्री से भरा एक जहाज म्यांमार भेजा गया था। म्यांमार के सैन्य हेलीकॉप्टरों ने उसे इरावदी डेल्टा क्षेत्र में गिराया। गौरतलब है कि इस विनाशकारी तूफान में मरने वालों की संख्या 22,500 से ऊपर निकल गई है, जबकि 41,000 लोग अभी भी लापता हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: म्यांमार में लौट रही है पटरी पर जिंदगी