class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवादा, बक्सर और सीतामढ़ी में छात्रों का उपद्रव, तोड़फोड़

दाचार मुक्त परीक्षा संचालन तथा ऐंसिएन्ट हिस्ट्री पेपर में सिलेबस से बाहर प्रश्न पूछे जाने के विरोध में बुधवार को सीताराम साहु कॉलेज में स्नातक पार्ट-2 के परीक्षार्थियों ने जमकर हंगामा किया तथा कई बेंच आदि तोड़ डाले। करीब एक घंटे तक परीक्षार्थियों ने परीक्षा कक्ष में तोड़फोड़ की तथा परीक्षा का बहिष्कार करते हुए बाहर निकल गये। उधर बक्सर में परीक्षार्थियों के हंगामे के बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिसमें कई परीक्षार्थी घायल हो गए। बाद में नाराज परीक्षार्थियों ने परीक्षा का बहिष्कार किया। गया में भी परीक्षार्थियों ने हो-हंगामा किया। सीतामढ़ी में निर्धारित समय पर 11वीं कक्षा की प्रैक्िटकल परीक्षा शुरू नहीं होने से नाराज छात्रों ने एसआरके गोयनका कॉलेज में जमकर तोड़फोड़ की।ड्ढr ड्ढr नवादा के सीताराम साहू कॉलेज केंद्र के परीक्षा हाल संख्या 7 के वीक्षक विनोद कुमार तथा दंडाधिकारी प्रदीप कुमार ने बताया कि कदाचार में लिप्त परीक्षार्थियों से जब सख्ती की गई तो वे लोग उत्तेजित हो गये तथा कॉलेज में तोड़फोड़ की। पुलिस हस्तक्षेप के बाद मामले को शांत किया जा सका। उधर, प्राचीन इतिहास में पाठ्यक्रम से बाहर प्रश्न पूछे जाने से गुस्साए छात्र-छात्राओं ने परीक्षा का बहिष्कार किया। बक्सर में स्नातक द्वितीय खंड की अंग्रजी साहित्य की परीक्षा में एलबीटी कालेज अवस्थित परीक्षा केन्द्र पर छात्रों ने जमकर हंगामा किया। कालेज प्रशासन और छात्रों के बीच शुरु हुई नोक-झोक के बाद पुलिस बल ने भी लाठियां भांजी जिसमें कई परीक्षार्थी जख्मी हो गए। परीक्षार्थियों का गुस्सा उबाल पर रहा और उनके द्वारा उत्तर पुस्तिकाओं को फाड़कर विरोध जताया गया। वे परीक्षा का बहिष्कार कर दिए। परीक्षार्थियों ने केन्द्राधीक्षक पर मनमानी करने व सुविधा शुल्क वसूलने का आरोप लगाया है। जबकि केन्द्राधीक्षक कुछ परीक्षार्थियों पर उदण्डता व कदाचार करने का आरोप लगाते रहे। जख्मी होने के बाद परीक्षार्थियों ने कालेज व पुलिस प्रशासन पर ज्यादती करने का आरोप लगाया। इधर घटना की जानकारी के बाद सदर डीएसपी राजेश कुमार छात्रों को समझाने व शांत करने पुलिस बल के साथ परीक्षा केन्द्र की ओर रवाना हुए। तब तक पूरा पुलिस महकमा सजग हो गया।ड्ढr ड्ढr वहीं सीतामढ़ी में निर्धारित समय पर ग्यारहवीं कक्षा की प्रैक्िटकल परीक्षा शुरू नहीं होने से नाराज छात्रों ने बुधवार को एसआरके गोयनका कॉलेज में जमकर तोड़फोड़ की। मौके पर प्रिंसिपल के अनुपस्थित रहने से छात्रों का गुस्सा और भड़क उठा। छात्रों ने प्रिंसिपल कक्ष को भी निशाना बनाते हुए तोड़फोड़ की। कक्ष के बाहर लगे नेम प्लेट को उखाड़ कर फेंक दिया। बर्सर कक्ष, मनोविज्ञान विभाग एवं परीक्षा विभाग कक्ष में भी जमकर तोड़फोड़ की। बाद में आक्रोशित छात्र प्रिंसिपल कार्यालय के समक्ष रोषपूर्ण प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शनकारी छात्रों का नेतृत्व छात्र जदयू के जिलाध्यक्ष आनंद बिहारी सिंह एवं अभाविप के जिला संयोजक दिग्विजय सिंह ने किया। इस बीच प्रिंसिपल डॉ. पीएन गुप्ता के कालेज पहुंचने पर छात्रों ने उनका घेराव किया और सवाल-ावाब करने लगे। मौके पर घटना की सूचना पाकर नगर थानाध्यक्ष ललन शर्मा सदल बल के साथ पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित किया। प्रदर्शनकारी छात्रों का कहना था कि ग्यारहवीं कक्षा के प्रैक्िटकल परीक्षा की तिथि चार बार निर्धारित कर टाल दी गई। छात्रों का आरोप था कि विलंब से कालेज पहुंचना प्रिसिंपल की दिनचर्चा बन गई है। गया के गया कालेज परीक्षा केन्द्र पर बुधवार को स्नातक द्वितीय खंड के आक्रोशित परीक्षार्थियों ने हो-हंगामा किया। वे कुछ समय के लिए धरना पर बैठकर कुलपति को बुलाने की मांग कर रहे थे। पुलिस ने गया कालेज पहुंचकर आक्रोशित छात्र-छात्राओं को समझाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नवादा, बक्सर और सीतामढ़ी में छात्रों का उपद्रव, तोड़फोड़