DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झरिया में ट्रेनिंग सेंटर खुलेगा

झरिया के पुनर्वासितों के लिए कोल इंडिया टेक्िनकल ट्रेनिंग सेंटर खोलेगा। राज्य के इस प्रस्ताव को अध्यक्ष पार्थ एस भट्टाचार्य ने मान लिया है। बुधवार को उनकी सीएस एके बसु के साथ झरिया की भूमिगत खदान में लगी आग को बुझाने पर चर्चा हुई। अध्यक्ष ने बताया कि झरिया एक्शन प्लान को राज्य सरकार ने हू-ब-हू मान लिया है। केंद्रीय योजना से सरकार अपने स्तर पर वहां कुछ और काम करना चाहती है। इस संबंध में सीएस ने निर्देश भी दिये हैं। ट्रेनिंग सेंटर कॉरपोरट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत खोलेगा। सहमति की जानकारी कोयला मंत्रालय को दी जायेगी। पूरा प्रोजेक्ट करीब 6358 करोड़ का है। उन्होंने बताया कि पुनर्वास के लिए पैसे की कमी नहीं होगी। यहां एक सौ साल से आग लगी हुई है। इसे काबू नहीं किया गया तो स्थिति बेकाबू हो जायेगी। यह बढ़ती ही जा रही है। उसे बुझाने के लिए वहां पर बसे लोगों को पहले हटाना ही होगा। उनके लिए बेहतर और सुविधायुक्त नगर बसाया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झरिया में ट्रेनिंग सेंटर खुलेगा