class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईपीएल मैदान में गूंजा रवींद्र संगीत

बॉलीवुड किंग 46 वर्षीय शाहरुख खान ने गुरुवार की रात नोबेल पुरस्कार प्राप्त 147 वर्षीय गुरुदेव रवीद्रनाथ ठाकुर को भी अपनी कोलकाता नाइट राइडर्स टीम में शामिल कर लिया। शाहरुख की टीम ने कोलकाता के इडेन गार्डेन मैदान में गुरुवार की रात रवींद्रनाथ 147वीं जयंती मनाई। इस अनुष्ठान में शाहरुख पूरी तरह रवींद्रमय दिखे। अब तक उन्हें इडेन गार्डेन ओम, बाजीगर, डान के रूप में देखने को अयस्त था पर रवींद्र जयंती पर वे रवींद्रप्रेमी दिखे। उन्होंने गीतांजलि के एक अंश का पाठ किया। अवसर था-आईपीएल मैच शुरू होने के पहले रवींद्र जयंती मनाने का। इडेन के जे ब्लाक के सामने बने अस्थाई मंच पर शाहरुख ने गुरुदेव के चित्र पर माल्यार्पण कर कवि को प्रणाम किया। बालीवुड-टालीबुड के दूसरे् कलाकारों ने भी गुरुदेव के चित्र पर माल्यार्पण किया। उसके बाद ममता शंकर ने अपने बैले ट्रूप के साथ रवींद्र नृत्य की प्रस्तुति की। तत्पश्चात इंद्राणी सेन ने रवींद्र संगीत पेश किया-‘बोड़ो आशा कोरे एशेछि गो’ (बड़ी आशा से आया हूं जी)। उसके उपरांत ममता शंकर ने फिर रवींद्र नृत्य पेश किया। इसके बोल थे-‘माटी तोदेर डाक दिएछे’ (माटी ने तुम्हें पुकारा है)। इस प्रस्तुति के दौरान नृत्य पेश कर रहे कलाकार लगातार इडेन की माटी की ओर देख रहे थे। इडेन के रवींद्र जयंती समारोह ने यह भी साबित किया कि आधुनिकता और बाजार का भी संस्कृति-कला से कदमताल संभव है। आधुनिकता व बाजार भी गुरुवार को रवींद्र संगीत और रवींद्र नृत्य की परंपरा से जुड़े। मैच शुरू होने के पहले शाहरुख की टीम द्वारा रवींद्र जयंती मनाए जाने की प्रशंसा करते हुए बंगाल के खेल मंत्री सुभाष चक्रवर्ती ने क हा कि गुरुदेव के प्रति शाहरुख की भक्ित देख उन्हें अपार खुशी हुई। हालांकि बारिश के कारण गुरुवार का मैच समय से शुरू नहीं हो पाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईपीएल मैदान में गूंजा रवींद्र संगीत