DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमुई से कमाने परदेस गए छह बच्चे गायब

खैरा प्रखंड के चितरवार गांव से रोजगार की तलाश में गये छह बच्चों की कई माह बाद भी कोई जानकारी नहीं है। जानकारी नहीं मिलने से परिजन काफी चिंतित एवं बेहाल हैं। ग्रामीणों के अनुसार एक बच्चे की मौत की सूचना कुछ दिन पूर्व मिली थी। उसका पिता सूरत पहुंचा और वहीं अपने बच्चे का दाह संस्कार कर लौट गया। शेष पांच अब भी लापता हैं। किसी को कोई जानकारी नहीं है।ड्ढr ड्ढr अशिक्षित ग्रामीण कुछ भी बता पाने में असमर्थ हैं। प्रखंड मुख्यालय से दक्षिण करीब 15 किलोमीटर दूर सैकड़ों फीट ऊंची पहाड़ी पर बसे चितरवार गांव में अधिकांश लोग खैरवार जाति के हैं जो अशिक्षित हैं। कुछ माह पूर्व गांव के छह बच्चे कमाने के लिए दूसर राज्य गये थे। जिनमें गोरलाल खरवार का पुत्र यमुना खैरवार, काशी खरवार का पुत्र कुमला खैरवार, भीमल खैरवार, मूड़ल खरवार के पुत्र कैला खैरवार, माधो खरवार का पुत्र विजय खैरवार व पुत्री कुंती कुमारी शामिल हैं। इनमें से भीमल खैरवार की मौत सूरत में हो गयी जिसकी सूचना मिलने पर उसके पिता काशी खैरवार ने सूरत जा कर अपने मासूम बच्चे का वहीं दाह संस्कार कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जमुई से कमाने परदेस गए छह बच्चे गायब