class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्रियों की उड़ान पर लगी लगाम

हवाई सैर के शौकीन मंत्रियों के लिए यह अच्छी खबर नहीं। राज्य के इकलौते उड़नखटोले ‘ध्रुव’ की उड़ान पर मुख्यमंत्री ने लगाम लगा दी है। उन्होंने मंत्रियों से कहा है कि वे माह में एक बार से ज्यादा हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल न करं। सड़क से यात्रा करं। नक्सल विरोधी अभियान के लिए पुलिस विभाग को ध्रुव हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराया गया है। मंत्रियों को लिखे एक पत्र में श्री कोड़ा ने कहा कि हेलीकॉप्टर से यात्रा करना काफी खर्चीला है। यह नैतिक दृष्टिकोण से भी उचित नहीं है। अक्सर देखा गया है कि कई बार जहां आसानी से सड़क से भी जाया जा सकता है, मंत्रीगण हेलीकॉप्टर से ही जाते हैं। सीएम ने किसी मंत्री का नाम नहीं लिया है। लेकिन लिखा जरूर है कि कई बार मंत्र एक माह में चार से पांच बार हेलीकॉप्टर की मांग कर देते हैं। उन्होंने सभी से आग्रह किया है कि माह में एक बार से ज्यादा हेलीकॉप्टर के लिए मांग पत्र न भेजें। सीएम के मुताबिक हेलीकॉप्टर का उपयोग इधर काफी बढ़ गया है। इससे नक्सल विरोधी अभियान चलाने में कठिनाई हो रही है। राज्य में उग्रवादी घटनाएं बढ़ रही हैं। इस पर नियंत्रण के लिए हेलीकॉप्टर से संवेदनशील क्षेत्रों का हवाई सव्रेक्षण भी जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंत्रियों की उड़ान पर लगी लगाम