DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाढ़ आने पर राहत में देर नहीं होगी

इस बार बाढ़ आयी तो पीड़ितों तक राहत पहुंचने में शायद देरी नहीं होगी। बीते साल आयी बाढ़ से सबक लेते हुए सरकार ने अभी से ही उन स्थानों के चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी है जहां से राहत अभियान चलाया जाएगा। आपदा प्रबंधन विभाग ने यह महसूस किया है कि पिछले साल बाढ़ में पहले से साहाय्य केन्द्र निर्धारित नहीं होने से बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत पहुंचाने में विलम्ब हुआ था। बाढ़ के दौरान कहां से राहत वितरण अभियान चलाया जाए, राज्य सरकार अभी से ही उन जगहों को चिह्न्ति करने में जुटी है।ड्ढr ड्ढr आपदा प्रबंधन विभाग ने सभी प्रमंडलीय आयुक्तों और जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि विभिन्न क्षेत्रों में सव्रेक्षण कराकर उन स्थानों को चिह्न्ति करं जहां से राहत वितरण कार्य किया जाएगा। इसके अलावा बाढ़पीड़ित परिवारों के लिए शरण स्थलों को भी चिह्न्ति करने का निर्देश दिया गया है। अधिकारियों को कहा गया है कि शरण स्थल के तौर पर ऊंचे स्थानों पर स्थित स्कूल भवन, पंचायत भवन या ऊंची जमीन हो सकती है। बांध या सड़क के किनार जहां लोग अमूमन शरण लेते हैं वहां पहले से आवश्यक तैयारी करने का निर्देश दिया गया है। वहां पेयजल की व्यवस्था के लिए हाई हेड का चापाकल गाड़ने, मेडिकल कैम्प लगाने और कम्यूनिटी बोरहोल लैट्रीन(शौचालय) की व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाढ़ आने पर राहत में देर नहीं होगी