अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीसरे सप्ताह भी नहीं थमी महंगाई

सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद महंगाई की रफ्तार पर ब्रेक नहीं लग पा रहा है। मुद्रास्फीति 26 अप्रैल को लगातार तीसरे सप्ताह बढ़ता हुआ पिछले साढ़े तीन वर्ष के उच्चतम स्तर 7.61 प्रतिशत पर पहुंच गया। विशेलषकों की राय में महंगाई से जल्दी ही राहत मिलने की उम्मीद कम ही नजर आ रही हैं। चाय, मसाले, फल-सब्जियों और सीमेंट आदि के दाम बढ़ने से महंगाई की दर में 26 अप्रैल को समाप्त हुए सप्ताह में 0.04 प्रतिशत की मामूली बढ़ोतरी हुई।ड्ढr ड्ढr विशलेषकों का मानना है कि आने वाले कुछ सप्ताहों के दौरान महंगाई की दर सात प्रतिशत से ऊपर बनी रह सकती है। पिछले छह सप्ताह से महंगाई की दर सात प्रतिशत से ऊपर बनी हुई है। पिछले छह सप्ताह के दौरान इसमें मात्र एक सप्ताह के दौरान 0.27 प्रतिशत की गिरावट देखी गई थी। महंगाई का वर्तमान स्तर 13 नवम्बर 2004 के बाद का सर्वाधिक है। पिछले साल आलोच्य सप्ताह में मंहगाई 6.01 प्रतिशत पर थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: तीसरे सप्ताह भी नहीं थमी महंगाई