class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फारबिसगंज में सीआरएस का घेराव

शुक्रवार को जोगबनी-कटिहार रलखंड आमान परिवर्तन कार्य का निरीक्षण करने आए मुख्य सुरक्षा आयुक्त बलवीर सिंह समेत अधिकारियों के जत्थे का फारबिसगंज रलवे स्टेशन पर हाारों लोगों ने घेराव कर रोष पूर्ण प्रदर्शन किया। आक्रोशित लोग अनियमिततापूर्ण निर्माण कार्य के लिए महाप्रबंधक तथा कार्यरत एजेंसी के खिलाफ नारबाजी कर रहे थे। लोगों से घिरड्ढr अधिकारियों के जत्थे को निकालने के लिए सुरक्षाकर्मियों को बल प्रयोग करना पड़ा। भीड़ से निकलते ही सीआरएस की ट्रॉली बगैर निरीक्षण किए भाग खड़ी हुई। बताया जाता है कि स्थानीय रलवे स्टेशन पर उस वक्त अफरातफरी मच गयी जब सीआररएस की ट्रॉली समेत अधिकारियों को भीड़ ने चारों ओर से घेर लिया। अधिकारियों ने समझाने-बुझाने का प्रयास किया। बाद में सुरक्षाकर्मियों ने बल प्रयोग कर अधिकारियों को भीड़ से निकाला।ड्ढr ड्ढr प्रदर्शनकारी अनियमितता की जांच की मांग तथा कार्रवाई की मांग करते रहे लेकिन जनाक्रोश देख अधिकारियों ने ट्रॉली से उतरना मुनासिब नहीं समझा। इससे पूर्व कई संगठनों ने प्रदर्शन व नारबाजी की। प्रदर्शन को देख डीआरएम ने मामले को शांत करने का प्रयास किया। स्टेशन से तकरीबन एक किलोमीटर पूर्व निरीक्षण कर रहे अधिकारियों ने लोगों के आक्रोश को भांप लिया था तथा वह बीच के ट्रैक से निकलने ही वाले थे कि लोग पटरी पर कूद पड़े और आवागमन ठप कर दिया। प्रदर्शनकारियों में भाजपा, जदयू , सपा, कांग्रेस, अभाविप, एनएसयूआई समेत कई संगठन के सदस्य उपस्थित थे। प्रदर्शनकारियों में मुख्य रूप से भाजपा के रामाशंकर गुप्ता, शंकर चौखानी, नशीमुद्दीन, रघुवीर विश्वास, जदयू के रमेश सिंह आदि थे। पवन मिश्रा, प्रदीप साह, रमेश राम, अभाविप के प्रवीण कुमार, प्रीतम , रविशंकर, आशीष , राहिल, रूपम तथा एनएसयूआई के कपिल अहमद, ललित यादव, अमन, राकेश मंडल, समेत कांग्रेस के श्री कुमार ठाकुर, वार्ड पार्षद राज कुमार अग्रवाल, धीरा राज , भाजपा नेत्री रणु वर्मा, नप की मुख्य पार्षद वीणा देवी, संघर्ष समिति के डा. एन एल दास, शाहाहां शाद, आफताब आलम, संजय कुमार, अरविन्द यादव आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फारबिसगंज में सीआरएस का घेराव