DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निचली अदालतें अपना दायित्व निभाएं:चंद्रमौली

पटना हाईकोर्ट के कार्यकारी मख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति चन्द्रमौली कुमार प्रसाद ने कहा है कि जिला अदालतों में जो खमियां है उन्हें दूर कर ही न्यायिक व्यवस्था को मजबूती प्रदान किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि आम जनता का ख्याल रखते हुए निचली अदालतों को अपना दायित्व का पालन करना चाहिए। न्यायमूर्ति श्री प्रसद स्थानीय तारामंडल में आयोजित जिकला जजों के दो दिवसीय सम्मेलन का उद्घाटन करने के बाद राज्य भर से आए जिला जजों को सम्बोधित कर रहे थे। इसके पूर्व न्यायमूर्ति एसएन हुसैन ने आगत अतथियों का स्वागत किया। सम्मेलन के पहले सत्र में निचली अदालतों में बुनियादी सुविधा के अभाव पर विस्तार से प्रकाश डाला गया।ड्ढr ड्ढr न्यायमूर्ति अभिजित सिन्हा ने एजेंडा पेश किया जिस पर न्यायमूर्ति शिवकीर्ति सिंह ने अपने विचार व्यक्त किए। जिला अदालतों में पर्याप्त संख्या में कोर्ट रूम, ऑफिस तथा सभी स्तर के न्यायिकह अधिकारियों के लिए क्वार्टर तथा अन्य जरुरी सुविधएं उपलब्ध करन पर जोर दिया गया। कोर्ट कैम्पस तथा न्यायिक अधिकारीयों ने आवासीय प्रशासन से सम्बधित विचारणिय मुद्दे को न्यायमूर्ति धनश्याम प्रसाद ने पेश किया जिसपर न्यायमूर्ति सुधीर कुमार कटरियार ने प्रकाश डाला। निचली अलतों में तृतीय और चतुर्थवर्गीय पदों पश्र होन वाली नियाुक्ितयों, फैमिली कोर्ट के प्रधान जाजों को स्वतंत्र रुप से वित्तिय अधिकार देने सहित अन्य प्रशासनिक कठिनाइयों के बार में चर्चा की गई। न्यायिक कार्य के बार में न्यायमूर्ति रखा कुमारी द्वारा पेश एजेंडा पर न्यायमूर्ति मृदुला मिश्राा आपराधिक मामलों में पुलिस अैार स्वास्थ्य निदेशालय की भूमिका पर विस्तार से प्रकाश डाला।ड्ढr ड्ढr सम्मेलन में भाग ले रहे जिला जजों में बहुत ही कम ही थे जिन्होंने खुलकर अपने विचार व्यक्त किए। पटना के जिला जज मंधाता सिंह तथा मोतिहारी फैमिली कोर्ट के प्रधान जज राम प्रवेश शर्मा सहित तीन-चार जिला जजों ने ही अपने विचार व्यक्त किए। सम्मेलन के बाद न्यायमूर्ति एस.एन.हुसैन ने बताया कि निचली अदालतों में लंबित मुकदमों के त्वरित गति से निपटार में आने वाली बाधाओं के साथ ही अनेक ज्वलंत मुद्दों पर विचार-विमर्श किया जा रहा है ताकि न्यायिक व्यवस्था में आए गिरावट को चिह्न्ति कर उसे दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि आम जनता को अभी भी न्यायपालिका पर भरोसा है और उनके इस विश्वास को कायम रखने की जवाब दे ही हम सब पर है। उन्होंेने कहा कि रविवार को भी दिनभर सम्मेलन में अनेक महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: निचली अदालतें अपना दायित्व निभाएं:चंद्रमौली