हिंदू जनजागरण की जरूरत - हिंदू जनजागरण की जरूरत DA Image
18 फरवरी, 2020|12:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिंदू जनजागरण की जरूरत

आदि शंकराचार्य जी की जयंती पर हरमू मैदान में हाारों श्रद्धालुओं ने शिवसहस्त्रार्चन किया। साथ ही पुरी के शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी ने आदि शंकराचार्य जी के अवतार लेने की घटना और समाज में उनकी उपलब्धियों की जानकारी दी। शंकराचार्य जी ने 1857 के शहीदों को श्रद्धांजलि दी इस अवसर पर 11 विद्वान पंडितों के साथ हाारों श्रद्धालुओं ने सस्वर शिवसहस्त्रार्चन किया। इस बीच पुरी पीठाधीश्वर पधार। सनातन धर्म समिति, झारखंड प्रदेश अखिल भारतीय पीठ परिषद और विहिप के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने शंकराचार्य जी का स्वागत किया। बाद में मुख्य यजमान जे जयपुरियार ने स्वामी जी की परिवार सहित पादुका पूजन की। इसके बाद एके ठाकुर, इंदिरा झा, डॉ एचपी नारायण और श्यामनारायण दुबे ने शंकराचार्य जी और पुरी पीठाधीश्वर के जीवन दर्शन पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि आज फिर से हिंदू जनजागरण की आवश्यकता है। स्वामी जी के सचिव निर्विकल्पानंद प्रकाश ने विरुदावली का पाठ कर आशीर्वचन प्रदान किया। अंत में स्वामी निश्चलानंद जी ने ईश्वर, शंकराचार्य का नमन कर अमर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: हिंदू जनजागरण की जरूरत