class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्लास्टिक सर्जरी से जोड़े जा सकते हैं कटे अंग

एनएमसीएच के प्लास्टिक व कॉस्मेटिक सर्जन डा.एस.के.झा ने बताया कि गर्भावस्था में वायरस के संक्रमण से बच्चे जन्मजात कटे होठ-तालू के मरीज हो जाते हैं। गर्भवती महिलाओं को अधिक मात्रा में विटामिन के सेवन कराने से भी कटे होठ-तालू के बच्चे पैदा होते हैं। इसका कारण वंशानुगत भी होता है। अंधविश्वास के कारण लोग इसे बच्चों के ग्रहण लगने की बीमारी मान लेते हैं। प्लास्टिक सर्जरी से इस प्रकार की विकृत्तियों को दूर किया जाता है। डा. झा रविवार को ‘हेल्थ ऑन लाइन’ में पाठकों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे थे। थ्रसर या घारदार हथियार से कटी उंगली या अंग को जोड़ा जा सकता है।ड्ढr ड्ढr इसके लिए कटे अंग को अविलम्ब आरएलए स्लाइन में डालकर उसे एक प्लास्टिक के थैले में बांध दें। उस थैले को आइसबॉक्स में रखकर 6-8 घंटे के अन्दर प्लास्टिक सर्जरी कराने से कटे अंग को जोड़ना संभव है। चेहर की र्झुी और जबड़े के नीचे कमजोर पड़ी त्वचा को फेस लिफ्ट, थड्र लिफ्ट या केमिकल पिलिंग के द्वारा सुन्दर बनाया जाता है। लाइपो शक्सन तकनीक से शरीर के किसी भी भाग में अधिक मात्रा में एकत्र हुई चर्बी को निकाला जाता है। यह सर्जरी गाल, ठुडी के नीचे , स्तन, पेट की त्वचा के अलावा कमर और नितम्ब की चर्बी को हटाने के लिए किया जाता है। महिलाओं के अविकसित स्तन के सौन्दर्य के लिए सिलिकॉन इम्प्लांट कि या जाता है। बड़े आकार के स्तन का ब्रस्ट लिफ्ट या ब्रस्ट रिडक्शन सर्जरी की जाती है। गंजापन को दूर करने के लिए बाल प्रत्यारोपण किया जाता है। इसके लिए मरीज को भर्ती होने की आवश्यकता नहीं पड़ती। होठ की खिलावट या उभार के लिए रस्टलिन सुई का प्रयोग किया जाता है। मॉडलों और अभिनेत्रियों में यह काफी लोकप्रिय है। लड़कों के मूत्र मार्ग में गड़बड़ी होने पर सर्जरी द्वारा ठीक किया जाता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्लास्टिक सर्जरी से जोड़े जा सकते हैं कटे अंग