DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवनियुक्त पीएचडी टीचरों को मिलेंगे कई लाभ

राज्य सरकार की नीति से नेट-ोट पास कॉलेजों के नवनियुक्त शिक्षक क्षुब्ध हैं। नेट-ोट पास शिक्षकों के मुकाबले पीएचडी डिग्री होल्डर शिक्षकों को कई लाभ मिलेंगे। पीएचडी शिक्षकों को सरकार ने चार प्रोत्साहन भत्ता देने का निर्णय लिया है, जबकि नेट-ोट पास को एक भी इंसेंटिव नहीं मिलेगा। ये शिक्षक कम से कम दो प्रोत्साहन भत्ते की मांग कर रहे हैं। दूसरी ओर सरकार का इस मामले में कहना है कि ये निर्णय यूजीसी के दिशा-निर्देश के आलोक में लिये गये हैं।ड्ढr पीएचडी शिक्षक नेट-ोट पास शिक्षकों की अपेक्षा कम से कम एक हाार रुपये ज्यादा पायेंगे। पीएचडी शिक्षकों को तीन साल के अनुभव का लाभ भी मिलेगा। इतना ही नहीं पीएचडी शिक्षकों को प्रोन्नति में भी प्राथमिकता भी मिलेगी। जेपीएससी ने दो माह पहले ही राज्य की तीनों यूनिवर्सिटी के लिए 553 नये व्याख्याताओं की नियुक्ित की है। नेट-ोट पास शिक्षक लिखित परीक्षा में शामिल होकर आये हैं, जबकि पीएचडी सीधे साक्षात्कार में शामिल होकर टीचर बने। नेट-ोट संघ ने सरकार द्वारा किये जा रहे भेदभाव के खिलाफ आवाज उठाने का निर्णय लिया है।ड्ढr फुटाज के अध्यक्ष डॉ बबन चौबे का मानना है कि पीएचडी शिक्षकों को राष्ट्रीय नीति के तहत लाभ मिल रहा है, लेकिन नेट-ोट पास शिक्षकों का ख्याल भी राज्य सरकार को रखना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नवनियुक्त पीएचडी टीचरों को मिलेंगे कई लाभ