DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्चे लदी गाड़ी घर ले गए

लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति व सीपीएमटी के चेयरमैन प्रो. एएस बरार की तमाम हिदायतों को नजरंदाज करते हुए एक पर्यवेक्षक परीक्षा सामग्री से लदा वाहन लेकर घर चले गए। इसमें प्रश्नपत्र भी थे। इसका पता जब प्रो. बरार को लगा तो उनका पारा सातवें आसमान पर था। प्रो. बरार ने उन्हें तुरंत तलब कर परीक्षा डय़ूटी छोड़ देने को कह दिया। इसके अलावा एक अन्य पर्यवेक्षक ने स्वेच्छा से डय़ूटी छोड़ दी। प्रो. बरार ने इसकी पुष्टि की है।ड्ढr सोमवार को उन शहरों के लिए परीक्षा सामग्री रवाना की जानी थी जो राजधानी से तीन सौ किलोमीटर दूर स्थित हैं। परीक्षा सामग्री के साथ लविवि द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षकों और उक्त शहरों के प्रतिनिधि को पूरी तैयारी के साथ विश्वविद्यालय आना था और यहीं से सीधे उक्त शहर के केन्द्र चले जाना था।ड्ढr विश्वविद्यालय शिक्षक डॉ. आरबी सिंह को आगरा भेजा जाना था। वे विश्वविद्यालय आ गए और वाहन में परीक्षा सामग्री लदवाने के बाद कपड़े लेने के लिए घर चले गए। जब इसकी जानकारी प्रो. बरार को हुई तो उन्होंने इसे गंभीर लापरवाही मानते हुए रास्ते से ही उन्हें वापस बुला लिया। डॉ. सिंह की सघन तलाशी ली गई।ड्ढr वाहन में लदी पूरी परीक्षा सामग्री, प्रश्नपत्रों व ऑन्सर शीट की सील जाँची गई और सबकुछ दुरुस्त पाए जाने के बाद उन्हें डय़ूटी से हटा दिया गया। प्रो. बरार ने कहाकि यह गंभीर बात है और सीपीएमटी में ऐसी लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। प्रो. बरार ने बताया कि एक अन्य शिक्षक का कोई रिश्तेदार इस परीक्षा में शामिल हो रहा था।ड्ढr इसकी जानकारी होने पर उक्त शिक्षक ने खुद ही परीक्षा डय़ूटीड्ढr से अलग करने का आग्रह किया जिसे स्वीकार कर लिया गया। सीपीएमटी चेयरमैन ने बताया कि सोमवार को 12 शहरों में परीक्षा सामग्री भेज दी गई है। पास केड्ढr शहरों में मंगलवार को परीक्षाड्ढr सामग्री भेजी जाएगी। उन्होंने कहाकि यदि सीपीएमटी में शामिल किसी व्यक्ित के खिलाफ लापरवाही या गड़बड़ी की जरा सी भी शिकायत मिली तो उन्हें कार्रवाई करने में देर नहीं लगेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पर्चे लदी गाड़ी घर ले गए