अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज ठाकर को दंड दो

पिछले दिनों अपनी रैली में राज ठाकर कह रहे थे कि मुम्बई मराठियों की है और मराठी ही महाराष्ट्र पर्व मना सकते हैं। और मराठियों को ही यहां काम दिया जाएगा दूसर स्टेट के लोगों को मार-मार कर यहां से भगा दिया जाएगा। अगर राज ठाकर की तरह हर राज्य के व्यक्ित कहने लगें तो एक राज्य का व्यक्ित दूसर राज्य में घुस नहीं सकता। अगर ऐसा होता है तो हर राज्य केंद्र से कट जाएगा। फिर हर राज्य अपनी मनमानी करगा और पूरा देश प्रांतों में बंट जाएगा। जसे पहले प्रांतों में बंटा होने के कारण भारत बार-बार गुलाम होता रहा। राज ठाकर देश को क्या फिर से देश को गुलाम बनाना चाहते हैं? या संविधान को ताक पर रख फिर अपनी राजनीति चमकाना चाहते हैं? उन्हें तुरंत दंड देकर संविधान की रक्षा करनी चाहिए।ड्ढr आर. सी. विवेक, रोहिणी, दिल्ेड्ढr अंकों का चमत्कारड्ढr अंक ज्योतिष में अंकों का महत्व है। अंक व्यक्ित अथवा देश दोनों को समान रूप से प्रभावित करता है। देश को 15-8-1ो आजादी मिली, तदनुसार इस देश की जन्म तिथि 15 होगी। इस 15 का योग 6 अंक होता है, जो शुक्र का अंक है। अंक ज्योतिष में 6 अंक शुक्र का शत्रु अंक 1 अंक सूर्य और 8 अंक शनि है, साथ ही 4 अंक राहु भी 6 अंक के शुक्र को प्रभावित करता है। 1े आजादी के पश्चात इस देश के जीवन में पहली बार राहू का वर्ष 1आया। वर्ष 1ा पूर्ण योग अंक 4 अंक राहू होगा। इस राहू ने इस देश के जीवन को हमेशा अस्त-व्यस्त किया है, तदनुसार 1े राहू के वर्ष में महात्मा गांधी की हत्या हो गई। 1ा कुल योग अंक पुन: 4 अंक राहू ही आता है, जिस वर्ष लाल बहादुर शास्त्री की मृत्यु हो गई। 1ा योग पुन: 4 राहू ही होता है। इस वर्ष इंदिरा गांधी की हत्या हो जाती है- पुन: देश के समक्ष संकट छा जाता है। इस 1में पुन: 18 जोड़ने पर 2002 होता है। इस 2002 का पूर्ण योग अंक 4 राहू ही होता है। इस वर्ष भी उपराष्ट्रपति कृष्णकान्त की मृत्यु हो जाती है। अंकों का प्रभाव केवल मनुष्य पर ही नहीं होता है- देशों पर भी होता है।ड्ढr प्रकाश चन्द्र गुप्त, किदवईपुरी, पटना

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राज ठाकर को दंड दो