DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूबे में फूड स्ट्रीट योजना लागू होगी

राज्य में फूड स्ट्रीट योजना लागू होगी। पहले चरण में इसे नालन्दा और गया में प्रयोग में लाया जायेगा। इसके तहत पर्यटन स्थलों के आसपास घूम-घूम कर खाने का सामान बेचने वालों को स्वास्थ्य मानकों का पालन करने का प्रशिक्षण दिया जायेगा। योजना सफल रही तो इसका दायरा वैशाली, राजगीर समेत अन्य पर्यटक स्थलों तक बढ़ेगा। इसी प्रकार केन्द्र सरकार भी पटना में फूड टाउन योजना लागू करना चाहती है।ड्ढr ड्ढr पिछले कुछ वर्षो में राज्य के विभिन्न पर्यटक स्थलों पर पर्यटकों, खासकर विदेशियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए फूड स्ट्रीट योजना पर काम शुरू हुआ है। गत दिनों खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग की राज्यस्तरीय बैठक में फूड स्ट्रीट योजना पर चर्चा हुई। संबंधित जिलों के डीएसओ और अन्य अधिकारियों को भी इस बाबत निर्देश दिये गये हैं। सूत्रों के अनुसार, खाने का सामान बेचने वालों को निबंधित कर उन्हें विशेष नम्बर दिया जायेगा। फेरी वालों को स्वास्थ्य मानकों का पालन करने के साथ ही स्थानीय स्तर के प्रसिद्ध खाद्य पदार्थ की बिक्री के लिए भी प्ररित किया जायेगा। खाद्य पदार्थ बेचने का क्षेत्र भी निर्धारित किया जायेगा। साथ ही फूड टाउन योजना के तहत पटना में एक कॉमन किचेन बनाया जायेगा जिसमें हरक तरह की सुविधा और सामग्रियां उपलब्ध होंगी।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सूबे में फूड स्ट्रीट योजना लागू होगी