अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बढ़े प्रापर्टी दामों पर बिल्डर का हक नहीं

तयशुदा अवधि के भीतर फ्लैट का कब्जा देने का वादा कर कोई भी बिल्डर प्रापर्टी के दाम ऊंचे होने की दलील देकर फ्लैटधारक को मुआवजा देने से इनकार नहीं कर सकता। राष्ट्रीय उपभोक्ता अदालत ने सोमवार को एक केस में यह निर्णय सुनाया। अदालत ने कहा कि मुआवजा न देने का बिल्डर का इरादा अनुचित और अतार्किक है क्योंकि बिक्री के साथ ही सार लाभों का स्वाभाविक हकदार क्रेता है, न कि विक्रेता। वरना बिल्डर प्रॉपर्टी की डिलीवरी को महीनों तक लटकाए रख सकते हैं। कुांबिहारी मेहता और एक अन्य ने पालम बिहार के सेलेब्रिटी होम्स के एक अपार्टमेंट के मामले में अंसल प्रॉपर्टीज के खिलाफ उपभोक्ता आयोग में मामला दायर किया था। शिकायतकर्ताओं ने फ्लैट की कीमत के बतौर बिल्डर को 1में भुगतान किए गए 26,26,70 रुपए की एवज में कब्जे की तिथि तक सालाना 24 प्रतिशत ब्याज दर के हिसाब से हराने की मांग की थी। सूबे का हर दूसरा बच्चा कुपोषितड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। बिहार का हर दूसरा बच्चा कुपोषण का शिकार है। केन्द्र व राज्य सरकारें प्रभावी कदम नहीं उठाते हैं तो हालत और बिगड़ जाएगी। ये बातें राजनीतिक दलों के आठ सांसदों ने यूनिसेफ और राष्ट्रीय स्वास्थ्य सव्रे के आंकड़ों के हवाले से यहां एक प्रस कांफ्रंस में कहीं। उनके मुताबिक 3 साल तक के कुल 58 फीसदी यानी 1.58 लाख बच्चे इसकी चपेट में है। इनमें से 8.3 फीसदी तो बिल्कुल मौत के कगार पर हैं। पूर्व केन्द्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन, माकपा के मो. सलीम, बीजद के जय पांडा, राजद के आलोक मेहता, सपा के नीरज चन्द्रशेखर ने कहा कि कुपोषण के मुद्दे पर वे सलाहकार समूह के रूप में काम कर रहे हैं। ड्ढr बारह हाार में बेटे को बेच डालाड्ढr विद्यापतिनगर (समस्तीपुर) (ए.सं.)। प्रखंड के सोठगामा पंचायत अन्तर्गत खेसराहा गांव में एक दलित दम्पत्ति ने गरीबी से परशान होकर पुत्र को 12 हाार में बेच डाला। वार्ड 11 मुसहर टोल निवासी रामवृक्ष सदा की गरीबी के कारण हालत खराब थी। घर में दो बच्चे दिपेश कुमार व दिनेश कुमार और इनकी पत्नी पुनीया देवी को दो शाम की रोटी का जुगाड़ करना भी मुश्किल था। ऐसे में बीमारी के इलाज की बात ही बेमानी। श्री सदा का परिचय गांव के ही महेश्वर राय के मित्र छपरा शहर निवासी कोलकाता के दास नगर में रहने वाले नि:संतान बालेश्वर शर्मा से हुई। दोनों में सौदा कोलकाता में ही तय हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बढ़े प्रापर्टी दामों पर बिल्डर का हक नहीं