DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो माओवादियों समेत चार गिरफ्तार

माओवादियों के खिलाफ पुलिस के चल रहे अभियान को अपेक्षित सफलता मिल रही है। शुक्रवार को गिरफ्तार किए गए भाकपा माओवादी की ‘थ्री यू सेक’ की मिलट्री कमीशन का हेड रामप्रवेश बैठा उर्फ सतीश जी उर्फ रांन की गिरफ्तारी की चर्चा अभी खत्म भी नहीं हुई थी कि पटना पुलिस ने मंगलवार को एक गोपनीय ऑपरशन को अंजाम देते हुए अरवल जिला के मेहन्दिया थाना के इांौर गांव निवासी व औरंगाबाद जिला में एरिया कमांडर के रूप में कार्यरत कुख्यात माओवादी सुदर्शन रविदास उर्फ सरो व गया के कोंच थाना के नेवधी गांव का निवासी तथा पार्टी के सशस्त्र दस्ते का सदस्य विरन्द्र दास उर्फ शंकर जी को कोतवाली थाना क्षेत्र स्थित एक होटल के पास से दबोच लिया।ड्ढr ड्ढr इनके साथ संजय यादव (रफीगंज, औरंगाबाद) व कुलदीप रविदास उर्फ मदन (पोंदिल, थाना-कुर्था, जहानाबाद) को भी गिरफ्तार किया गया पर इन दोनों का कोई आपराधिक इतिहास पुलिस को नहीं मिला है। गिरफ्तार माओवादियों के पास से माओवादी साहित्य, केन, नए कपड़े व कई जोड़े जूते-मोजे व दर्द निवारक दवाइर्या बरामद की गईं। कयास लगाया जा रहा है कि ये सभी सामग्री बेउर जेल में बंद माओवादियों को पहुंचायी जाती। इधर पटना में कुख्यात माओवादियों की चहलकदमी और लगातार हो रही गिरफ्तारी ने राजधानी की सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं।ड्ढr एसएसपी अमित कुमार द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि एरिया कमांडर सुदर्शन रविदास पर अरवल जिला के तीन थानों में आध दर्जन मामले जबकि विरन्द्र दास पर कोंच और करपी थानों में आठ संज्ञेय मामले दर्ज हैं जिनमें दोनों फरार थे। विरन्द्र 2003 में कोंच एरिया कमिटी के कमांडर किरानी यादव के नेतृत्व में परैया थाना को भी लूटा था। इस हमले में दो पुलिसकर्मी मार गए थे। गिरफ्तार माओवादियों से आवश्यक पूछताछ करने के बाद जेल भेज दिया गया। इनकी गिरफ्तारी की सूचना गया एवं अरवल पुलिस को भी दी गई है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दो माओवादियों समेत चार गिरफ्तार