अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एचएएल में धमाकों की धमकी

राज्य के डीाीपी विक्रम सिंह को मोबाइल संदेश भेजकर आगाह किया गया है कि हिन्दुस्तान एयरोनोटिक्स लिमिटेड के परिसर में भी धमाके गूँज सकते हैं। इस बेहद संवेदनशील मामले में एसटीएफ, एटीएस और जिला पुलिस पूरी गोपनीयता से जाँच कर रही है। बुधवार की दोपहर एटीएस, एसटीएफ और पुलिस के शीर्ष अधिकारियों की एक बैठक एडीाी कानून व्यवस्था बृजलाल की अध्यक्षता में हुई। एटीएस के एक एएसपी के नेतृत्व में आठ सदस्यीय विशेष जाँच टीम जयपुर भी भेजी गई है जो इस मामले में हूाी व अन्य आतंकियों की भूमिका से जुड़े पहलुओं की पड़ताल करगी।ड्ढr पुलिस अपनी तरफ से पूरी सतर्कता बरत रही है। डीाीपी के मोबाइल पर एचएएल पर संभावित हमले से जुड़ा संदेश जयपुर के हमलों के बाद आया। पुलिस के आला अफसरों ने इस मामले की जाँच एंटी करप्शन विभाग को सौंपी है। डीआईाी स्तर के एक अधिकारी अपने स्तर पर मामले की जाँच कर रहे हैं। इस वास्ते बीएसएनएल में जीएम स्तर के एक शीर्ष अधिकारी से दो मोबाइल नम्बरों को ट्रेस करने की गुजारिश की गई। शाम चार बजे के करीब इन दोनों नम्बरों से जुड़ी कॉल डिटेल्स व पतों की प्रतिलिपि एक डीआईाी व एटीएस के अधिकारियों को भेज दी। इस बार में शीर्ष पुलिस अधिकारियों ने कुछ भी बताने से इंकार किया है। एडीाी कानून व्यवस्था बृजलाल ने बताया कि कम से कम उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं है। जयपुर में हुए आतंकी हमले में यूपी के शमीम और जलालुद्दीन आदि आतंकियों की भूमिका को एडीाी ने पड़ताल का विषय बताया। उधर एचएएल समेत लखनऊ व प्रमुख तीर्थ, पर्यटन, वैज्ञानिक व पुलिस मुख्यालयों की सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त करने को कहा गया है।ड्ढr प्रमुख सचिव गृह रणुका कुमार की ओर से बुधवार को दोबारा सभी एसएसपी व डीएम को महत्वपूर्ण स्थलों पर बम निरोधक दस्तों व डॉग स्क्वायड के साथ जाँच करने को कहा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एचएएल में धमाकों की धमकी