DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शहरभर के नालों की होगी उड़ाही: नगर आयुक्त

ाो है आपके सामने है। नाला है या खेत स्वयं देख लें। नगर निगम पूरी गंभीरता से बरसात की तैयारी कर रहा है। ये बातें सैदपुर नाले के उस भाग को दिखाते हुए नगर आयुक्त मिहिर कुमार सिंह ने कहा जिसकी अब तक सफाई नहीं हुई है। कोर तक भर नाले चीख-चीख कर कह रहे थे कि उन्हें छूने की हिम्मत अब तक नहीं की गई है। वहीं दूसरी ओर नाले का साफ हो चुका भाग किसी आश्चर्य से कम नहीं था। देखने में एक बड़ी नहर प्रतीत हो रही थी।ड्ढr ड्ढr दोनों किनारों पर अवैध कब्जाधारियों का तो नामो निशान नहीं दिखाई पड़ा। बड़े कब्जाधारियों के खिलाफ हुई कार्रवाई से सहमे छोटों ने अपने-आप मैदान छोड़ दिया है। कमोबेश सभी नालों की यही स्थिति है। नगर आयुक्त ने बुधवार को मीडियाकर्मियों के साथ नालों की उड़ाही कार्य का निरीक्षण किया। नगर आयुक्त का काफिला सबसे पहले सुबह 0 बजे मंदिरी नाला पहुंचा। पोकलन मशीन नाले में घुस कर सफाई कर रही थी। स्थानीय नागरिक शमशाद व रांीत ने पत्रकारों को बताया कि उन्होंने पहली बार इस पैमाने पर नाले की सफाई होते देखा है। इसके बाद छोटे नालों, सरपेंटाइन नाला, रलवे हंटर नाला, मोहनपुर पुनाईचक नाला, पुनाइचक संप हाउस, राजीवनगर नाला का निरीक्षण करता काफिला आशियाना-दीघा रोड में कुर्ाी नाला पर पहुंचा। नाले में पॉलीथिन फेंकते देख नगर आयुक्त भड़क गये और वासू ऑटोमोबाइल पर एक हाार रुपए जुर्माना करने का निर्देश दिया। बस स्टैंड से नंदलाल छपरा तक हो रहे कच्च नाले की खुदाई कार्य भी निरीक्षण किया। एक करोड़ 67 लाख की लागत से 14 फीट चौड़ी और 10 फीट गहरी नाले की खुदाई युद्ध स्तर पर जारी है। सभी नालों की सफाई और उससे निकले सिल्ट को हटाने का काम किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शहरभर के नालों की होगी उड़ाही: नगर आयुक्त