DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ठाकर पर निचली अदालत में कार्यवाही जारी रहेगीन पर लगी दो धाराएं निरस्त

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकर के खिलाफ जमशेदपुर की निचली अदालत में भादवि की धारा 504 के तहत मामला जारी रहेगा। हाइकोर्ट ने निचली अदालत द्वारा इस धारा के तहत लिये गये संज्ञान को उचित ठहराया है, लेकिन उन पर लगायी गयी दो अन्य धाराओं 153 ए व 153 बी को निरस्त कर दिया है। इन दोनों धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करने के पूर्व सरकार से अनुमति नहीं लेने के कारण इसे निरस्त किया गया है।ड्ढr जस्टिस अमरश्वर सहाय की अदालत ने राज ठाकर की याचिका पर सुनवाई के बाद उक्त आदेश दिया। ठाकर ने निचली अदालत द्वारा लिये गये संज्ञान एवं जारी सम्मन को निरस्त करने के लिए याचिका दायर की थी। ठाकर पर धारा 153 ए के तहत धार्मिक उन्माद फैलाने और 153 बी के तहत राष्ट्रीय एकता को खंडित करने का मामला दर्ज किया गया था। हाइकोर्ट ने कहा कि इन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करने के लिए सरकार से अनुमति लेने की जरूरत पड़ती है, लेकिन ऐसा नहीं किया गया है। कोर्ट ने 504 के तहत जानबूझ कर किसी को बेइज्जत एवं अपमानित करने के आरोप को सही ठहराया है । कोर्ट के इस आदेश के बाद अब धारा 504 के तहत निचली अदालत में कार्यवाही जारी रहेगी। ठाकर के खिलाफ वकील सुधीर कुमार ने शिकायतवाद दर्ज कराया था। उन पर बिहारियों को अपमानित करने का आरोप लगाया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ठाकर पर निचली अदालत में कार्यवाही जारी रहेगीन पर लगी दो धाराएं निरस्त