DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुजफ्फरपुर से जुड़े जयपुर ब्लास्ट के तार

ायपुर सीरियल ब्लास्ट के तार अब बिहार सहित कई राज्यों से जुड़ गए हैं। सूबे के मुजफ्फरपुर में एक से तीन अप्रैल तक सरैयागंज स्थित होटल पंचवटी में ठहर शमीम इस्लाम का नाम सुर्खियों में आ गया है। जयपुर विस्फोट में भी शमीम और मधु बंगाली नाम के दो संदिग्ध लोगों के नाम आ रहे हैं। जयपुर में विस्फोट स्थल से पटना से कोलकाता तक का एक हवाई टिकट बरामद हुआ। बताया जाता है कि उस टिकट को मुजफ्फरपुर के सरैयागंज टावर के निकट स्थित साइबर कैफे (पुराना नाम-ए.बी. कम्युनिकेशन) में बनाया गया।ड्ढr ड्ढr आशंका है कि जयपुर ब्लास्ट में वांछित शमीम ने ही मुजफ्फरपुर में खरीदे गये टिकट पर पटना से कोलकाता की हवाई यात्रा की। जयपुर ब्लास्ट के तार मुजफ्फरपुर से जुड़ते ही खुफिया अधिकारियों के कान खड़े हो गये हैं। चर्चा यह भी है कि इस मामले की जांच के लिए आईबी की एक टीम शहर में पहुंच चुकी है, परन्तु स्थानीय पुलिस इस संबंध में अनभिज्ञता प्रगट कर रही है। साइबर कैफे अथवा होटल प्रबंधन ने किसी पुलिस अथवा खुफिया विभाग के अधिकारी द्वारा शमीम इस्लाम के संबंध में पूछताछ किये जाने से इनकार किया है। साइबर कैफे के संचालक सुभाष विंजराजका ने बताया कि उसके यहां इंटरनेट पर कब किसने टिकट बनाया, यह उसे याद नहीं है। उसने बताया कि केबिन में बैठकर प्राय: ग्राहक इंटरनेट पर टिकट बनाते हैं, जिनका नाम पता नहीं पूछा जाता है। जयपुर में सीरियल ब्लास्ट की खबर के साथ शहर के व्यवसाय जगत में साइबर कैफे, होटल और शमीम का नाम सुर्खियों में आ गया है।ड्ढr ड्ढr चर्चा है कि कम्प्यूटर से छपेहवाई टिकट पर इस कैफे के दो नम्बर भी दर्ज हैं। इसके साथ ही जयपुर ब्लास्ट की जांच अब कई राज्यों में फैल गई है। फिलहाल कुछ ‘सॉलिड’ तो हाथ नहीं लगा है लेकिन इतना तो लग ही रहा है कि आतंकी तार कई जगह फैले हुए हैं और कौन-सा इलाका अगला निशाना बनेगा, कहना मुश्किल है। वैसे, राजस्थान पुलिस ने गुरुवार को तीन और संदिग्धों के स्केच जारी किए। ‘हिन्दुस्तान’ ने खुलासा किया था कि यूपी पुलिस के सीनियर अधिकारियों को धमकी भरे एसएमएस मिले हैं। गुरुवार को विशेष सचिव गृह डी.के. गुप्ता और एडीाी (कानून-व्यवस्था) ने डीाीपी को धमकी भरा एसएमएस भेजे जाने की पुष्टि की। जयपुर ब्लास्ट के तत्काल बाद ये एसएमएस मिले हैं। पांच अफसरों को इस एसएमएस के जरिये एचएएल को उड़ा देने की धमकी दी गई है। वैसे, एडीाी कानून व्यवस्था बृजलाल के मुताबिक, ज्यादा संभावना इसी बात की है कि यह एसएमएस शरारतन भेजा गया है। सूत्रों के मुताबिक, एटीएस की टीम ने लखनऊ के एक इनफोटेक शॉप से दो लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।ड्ढr ड्ढr उधर केन्द्रीय गृहमंत्री शिवराज पाटिल ने राजस्थान की राजधानी जयपुर में बम विस्फोटो की घटनाओं में लिप्त आतंकवादियों को शीघ्र पकड़ने का दावा करते हुए गुरुवार को कहा कि इस बारे में सुरक्षा एजेंसियों को महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं। इस बीच जयपुर में हुए बम धमाकों की जिम्मेदारी लेने संबंधी ई-मेल गाजियाबाद के एक साइबर कैफे से भेजा गया था। पुलिस ने कैफे के मालिक को गुरुवार को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। राजस्थान पुलिस ने मंगलवार को हुए बम विस्फोट की घटनाओं में लिप्त आतंकवादियों के गुरुवार को कम्प्यूटर की मदद से तैयार तीन और स्केच जारी किए। इसके अलावा दिल्ली पुलिस द्वारा मुख्य आरोपी की जारी स्केच से मिलते-ाुलते एक व्यक्ित को पूर्वी दिल्ली से हिरासत में लिया गया है। जिसे पूछताछ हो रही है। राजस्थान पुलिस ने दो समाचार चैनलो को भेजे ई मेल में जयपुर में श्रृंखलाबद्व बम धमाको की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के बारे में छानबीन शुरू कर दी हैं। कांग्रेस और संयुक्त गतिशील गठबंधन की अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा केन्द्रीय गृह मंत्री शिवराज पाटिल ने जयपुर में मंगलवार को सिलसिलेवार बम विस्फोटों में घायल हुए लोगों का अस्पताल में जाकर हालचाल पूछा और बम विस्फोट स्थलों का निरीक्षण किया। सोनिया अपने जयपुर दौरे के दौरान मीडिया से दूरी बनाए रहीं और उनके साथ आए केन्द्रीय मंत्री शिवराज पाटिल ने ही मीडिया से बातचीत की। केन्द्रीय मंत्रिमंडल को जयपुर में हुए श्रृंखलाब बम विस्फोटों और उससे उत्पन्न स्थिति से गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एमके नारायणन और कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर ने अवगत कराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मुजफ्फरपुर से जुड़े जयपुर ब्लास्ट के तार