अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्री की पैरवी, बॉस बने मास्टर साहब

पहुंच-पैरवी का अनोखा मामला सामने आया है। एक केंद्रीय और राज्य के एक कद्दावर मंत्री की पैरवी से प्राइमरी स्कूल के एक टीचर रांची 20 सूत्री कमेटी के सदस्य बन गये हैं। अब तक जिन अफसरों के मातहत थे, कुछ समय के लिए उनके बॉस बन जायेंगे।ड्ढr दरअसल राजकीय उर्दू स्कूल के शिक्षक शरीफ अहमद मजहरी का चयन 20 सूत्री कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति में किया गया है, अधिसूचना भी जारी हो गयी। सरकार ने नियमों के खिलाफ टीचर को सदस्य बनाया है, जिससे शिक्षा विभाग अफसर अचंभित हैं। टीचर डीएसइ के मातहत होते हैं। अब अगर 20 सूत्री कमेटी की बैठक हुई, तो इसमें मजहरी के सवाल का जवाब डीएसइ-डीइओ को खड़े होकर देना होगा।ड्ढr यह संयोग है कि पिछले सितंबर में बनी इस कमेटी की अब तक कोई बैठक नहीं हुई। विशेषज्ञों के अनुसार, सरकारी कर्मी को 20 सूत्री कमेटी का मेंबर नहीं बनाया जा सकता। वैसे मजहरी साहब ने डीएसइ को पत्र लिख मार्गदर्शन मांगा है। इसमें कहा गया है कि उनका चयन 20 सूत्री में हो गया है, वे क्या करं? हालांकि अब तक उन्हें इसका जवाब नहीं मिला है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंत्री की पैरवी, बॉस बने मास्टर साहब