अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गाँवों में छात्राओं के लिए अलग शौचालय बनेगा

प्रदेश के प्रमुख सचिव पंचायतीराज आर.के. शर्मा ने निर्देश दिए हैं कि सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान के तहत प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित सभी सरकारी प्राथमिक विद्यालयों में तीन माह के भीतर बालक-बालिकाओं के लिए अलग-अलग शौचालयों का निर्माण पूरा करा लिया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि वित्तीय वर्ष 2007-08 में चयनित 188अम्बेडकर ग्राम सभाओं में नाली-खड़ंजा का अधूरा कार्य हर हाल में 15 जून तक पूरा करा लिया जाए। इसके लिए एक अप्रैल तक बैंकों और पीएलए में उपलब्ध धन का उपयोग किया जाए।ड्ढr श्री शर्मा गुरुवार को निदेशक पंचायतीराज रामबोध मौर्य के साथ यहाँ प्रदेश भर के जिला पंचायत राज अधिकारियों तथा मण्डलीय उपनिदेशक(पंचायत) के साथ बैठक करके विभिन्न योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में कहा गया कि जिला पंचायतराज अधिकारियों को अब कार्य पूरा होने का उपयोगिता प्रमाणपत्र देना होगा।ड्ढr श्री मौर्य ने कहा कि वर्ष 2008-0ो अन्तरराष्ट्रीय स्वच्छता वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। इसीलिए मुख्यमंत्री मायावती के निर्देशानुसार ग्रामीण प्राथमिक विद्यालयों में बालिकाओं के लिए अलग शौचालय के लक्ष्य को निर्धारित किया गया है। यह निर्देश भी दिए गए हैं कि ग्रामीण क्षेत्रों में सव्रेक्षण कराकर सामुदायिक शौचालयों का निर्माण आगामी 31 दिसम्बर तक पूरा करा लिया जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गाँवों में छात्राओं के लिए अलग शौचालय बनेगा