DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखीसराय में गवाहों पर चलाईं गोलियां

पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था को धता बताते हुए हथियारों से लैस अपराधियों ने दिनदहाड़े शहर में गोली चलाकर अफरा-तफरी का माहौल पैदा कर दिया। शुक्रवार को साढ़े दस बजे दिन में जिला मुख्यालय में नया बाजार स्थित के.आर.के. हाई स्कूल के आसपास मोटरसाइकिल से जा रहे तीन लोगों पर जान मारने की नीयत से पांच सशस्त्र अपराधियों द्वारा तीन चक्र गोलियां चलायी गईं। परंतु किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। पीड़ितों का दोष इतना ही था कि वे एक कुख्यात अपराधी के खिलाफ न्यायालय में गवाही देकर लौट रहे थे।ड्ढr ड्ढr दिनदहाड़े हुई गोलीबारी की घटना से शहर के लोग अचंभित एवं आश्चर्यचकित हैं तथा कवैया पुलिस की निष्क्रियता पर उंगली उठा रहे हैं। जानकारी के अनुसार मोटरसाइकिल पर सवार तीनों लोग न्यायालय से एक अपराधी के विरुद्ध गवाही देकर लौट रहे थे। गोलीबारी की घटना के बाद पुलिस जब तक पहुंची तब तक सभी अपराधी फरार हो चुके थे। इस घटना के संबंध में लखीसराय सदर थाना क्षेत्रान्तर्गत मकन्दपुर ग्रामवासी पवन सिंह के फर्द बयान के आधार पर रामनगर के लाला मंडल एवं मोकामा के नागा साव के अलावा तीन अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है। पवन सिंह के अनुसार वर्ष 2003 में इनके भाई बबलू सिंह की हत्या कुख्यात अपराधी निरांन साव के द्वारा कर दी गई थी। इसी मामले में गवाही देकर न्यायालय से विपिन सिंह एवं एक अन्य के साथ पवन सिंह मोटरसाइकिल से लौट रहे थे कि पहले से घात लगाये हुए अपराधियों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लखीसराय में गवाहों पर चलाईं गोलियां