अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरा जन कॉलेज में छात्रों का उत्पात

पीजी की परीक्षा में परीक्षार्थियों के निष्कासन से बौखलाए छात्रों ने जन कॉलेज में घंटों उत्पात मचाया। हंगामा मचाने के बाद जमकर तोड़फोड़ की तथा उत्तर पुस्तिकाएं भी फाड़ डालीं। परीक्षा का वाक आउट करते हुए छात्रों ने वीसी पर भी पेंट के डिब्बे फेंक कर वार किया लेकिन वे बाल-बाल बच गये। काफी देर बाद पहुंची पुलिस को देखकर भगदड़ की स्थिति मच गई। परीक्षार्थियों ने लगभग एक घंटे तक कॉलेज की संपत्ति को तहस-नहस किया। उग्र छात्रों ने कुलपति तथा प्राचार्य मुर्दाबाद के नार भी लगाए। मौके पर उपस्थित पुलिस मूकदर्शक बनी रही। कुलपति के कहने पर भी पुलिसकर्मी हरकत में नहीं आए। आक्रोशित छात्रों ने लाखों रुपए की संपत्ति को क्षति पहुंचाई है। लगभग एक घंटे बाद एसडीओ और डीएसपी दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर छात्रों को कैम्पस से खदेड़े।ड्ढr ड्ढr इांीनियरों को पीटा, काम ठपड्ढr हिसुआ (नि.सं.)। हिसुआ-खनवां पथ निर्माण कार्य में लगे ठेकेदार के मुंशी वीरन्द्र सिंह के साथ मारपीट कर नगर के तीन अपराधियों ने एक लाख रुपये रंगदारी की मांग करते हुए कार्य को रुकवा दिया है। मारपीट का बीच बचाव करने पर पथ निर्माण विभाग के सहायक अभियंता उपेन्द्र साफी (पंडौल-मधुबनी) तथा कनीय अभियंता उपेन्द्र कुमार (मोकामा) समेत पेवर चालक रामानंद चौहान के साथ भी अपराधियों ने बुरी तरह मारपीट की। मुंशी द्वारा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराकर नगर निवासी डोमा यादव, धन्नू यादव तथा श्रवण रविदास को नामजद किया गया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि हिसुआ-खनवां पथ पर पथ कालीकरण के चल रहे कार्य को सुचारू करने की पुख्ता व्यवस्था की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरा जन कॉलेज में छात्रों का उत्पात