DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जदयू महिला प्रकोष्ठ

एनडीए उम्मीदवारों की जीत पक्की करने के लिए जदयू महिला प्रकोष्ठ की टीम संसदीय क्षेत्रों के लिए रवाना हो गई है। प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष प्रो. उषा सिन्हा के अलावा टीम में डा. हरपाल कौर, उर्मिला पटेल, शोभाप्रकाश कुशवाहा, एवं अनिता सिंह शामिल हैं। प्रो. सिन्हा ने बताया कि विकास और सांप्रदायिक सदभाव का मुद्दा सभी दलों पर भारी है। इन दोनों मुद्दों पर एनडीए उम्मीदवारों को वोट मिलेगा।ड्ढr ड्ढr बिहार नागरिक परिषदड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। बिहार नागरिक परिषद के उपाध्यक्ष भोला प्रसाद सिंह ने उन बाहुबलियों को जिला बदर करने की मांग की है जिनकी पत्नियां लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं। श्री सिंह ने कहा कि सजायाफ्ता होने के कारण कोई बाहुबली चुनाव नहीं लड़ रहा है। उनकी पत्नियां चुनाव लड़ रही हैं। अगर बाहुबलियों को क्षेत्र से नहीं हटाया गया तो वे वोटरों को धमकाएंगे।ड्ढr ड्ढr जदयू से निष्कासितड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। जदयू ने प्रदेश महासचिव गोपाल शाही और राज्य परिषद के सदस्य अशोक सिंह को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। प्रदेश महासचिव रवींद्र सिंह ने कहा कि दोनों नेताओं पर दलविरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है।ड्ढr ड्ढr राष्ट्र सेवा दलड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। राष्ट्र सेवा दल के महासचिव सह प्रवक्त राधामोहन सिंह ने कहा है कि राजग की गरीब विरोधी नीतियों के कारण गरीबों की तबाही हो रही है। उन्होंने कहा कि राजग की नीतियां अमीरों को और अधिक अमीर बनाने की है। वह वादों के आधार पर जनता को ठगने की कोशिश में है।ड्ढr ड्ढr सर्वजन समाज पार्टीड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। सर्वजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंकर झा ने कहा है कि कोसी की जनता एनडीए और यूपीए से नाराज है। क्योंकि दोनों ने बाढ़ की विनाशलीला के समय जनता की उपेक्षा की। फिर भी अधिक नाराजगी राजद और लोजपा के प्रति है। कोसी में सर्वजन समाज पार्टी के उम्मीदवारों की स्थिति मजबूत है।ड्ढr ड्ढr चुनाव को लेकर काम ठपड्ढr पटना (हि.प्र.)। श्रम संसाधन विभाग की धावा दल टीम द्वारा चलाए जा रहे बाल श्रम उन्मूलन अभियान चुनाव के कारण ठप पड़ गया है। बताया जाता है कि फोर्स की कमी के कारण फिलहाल सघन अभियान रुक गया है। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि दो-चार दिनों में फोर्स मिल जाएगी। फोर्स मिलते ही होटलों एवं ढाबों सहित कई घरलू बाल श्रमिकों को भी पकड़ने का अभियान चलाया जाएगा।ड्ढr ड्ढr नीतीश को कोसाड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सुशासन को फॉल्स बताया है और कहा है कि जदयू का घोषणा पत्र सिर्फ भ्रम फैलाने जैसा है। एक ओर धर्मनिरपेक्ष दिखने की कोशिश की गई है और दूसरी ओर भाजपा के साथ गठबंधन बनाकर उसकी जीत के लिए काम कर रहे हैं। भाजपा की जीत और केन्द्र में एनडीए की सरकार बनी तो भाजपा का घोषणा पत्र ही चलेगा जो पूरी तरह हिन्दूवादी है। उसने इस तरह घोषणा पत्र पेश किया है मानो विधानसभा का चुनाव हो। उनकी योजना में एक भी राष्ट्रीय स्तर का महत्वपूर्ण मुद्दा नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार ने अल्पसंख्यक कल्याण की कई योजनाएं बंद कर दी हैं। शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में डॉ. मिश्र ने तमाम धर्मनिरपेक्ष ताकतों से एनडीए के खिलाफ मतदान की अपील की है और कहा है कि इसके लिए एक दल को वोट देने की भी जरूरत नहीं है। जहां एनडीए उम्मीदवार को हराने की स्थिति में जो भी धर्मनिरपेक्ष दल हो उसे समर्थन देना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर