31 प्रेमिकाओं के लिए करता था चोरी - 31 प्रेमिकाओं के लिए करता था चोरी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

31 प्रेमिकाओं के लिए करता था चोरी

वाराणसी कार्यालय संवाददाता व्यवसायी परिवार की मासिक आय लाखों रुपये है, रहने के लिए बड़ा सा पुश्तैनी मकान और परिजनों का क्षेत्र में बेहद सम्मान मगर कमबख्त इश्क के चक्कर में परिवार का एक लड़का शातिर चोर बन गया। इश्क भी एक नहीं बल्कि 31 से। चौंकिए नहीं, शुक्रवार को सिगरा पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर चोर जयमंगल बिंद का कबूलनामा सुनकर पुलिसकर्मी भी हैरान रह गए। उसके कब्जे से लैपटॉप, मोबाइल और चोरी का काफी सामान बरामद हुआ। एसपी सिटी सुधाकर यादव ने शुक्रवार को मामले का खुलासा किया।

बताया कि एसओ सिगरा शिवानंद मिश्रा को सूचना मिली कि लहरतारा इलाके में दो संदिग्ध युवक मौजूद हैं। पुलिस टीम के साथ उन्होंने घेराबंदी कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपितों की पहचान शातिर चोर जयमंगल बिंद निवासी शिवपुरवा और गुडलक गुप्ता निवासी महमूरगंज के रूप में हुई। दोनों के कब्जे से तीन लैपटाॠप, दस मोबाइल, फर्जी वोटर कार्ड और 1 किलो 340 ग्राम चरस बरामद की गई। पुलिस ने पूछताछ शुरू की तो जयमंगल मजबूरी का रोना रोने लगा।

मजबूरी पूछी गई तो उसने बताया कि उसकी 31 प्रेमिकाएं हैं। उनकी जरूरतें पूरी करने के लिए वह चोरियां करता है। आरोपित ने पुलिस को अपनी सभी प्रेमिकाओं के नाम और पते भी बताए। यही नहीं, कई प्रेमिकाओं के नाम उसने शरीर पर गोदवा भी रखे हैं। बताया कि मिर्जापुर की रहने वाली एक प्रेमिका का नाम उसने बाएं हाथ पर गोदवाया था, उससे झगड़ा होने के बाद उसने हाथ पर गोदा हुआ नाम जलाकर मिटा दिया। आशिकाना मिजाज वाले चोर की दास्तान सुनकर पूछताछ करने वाली टीम ने दांतों तले अंगुली दबा ली।

एसओ सिगरा ने बताया कि जयमंगल चोरी की वारदातों में लंबे समय से शामिल रहा है। सिगरा पुलिस ही उसे चार बार गिरफ्तार कर चुकी है। इसके अलावा वर्ष-2010 में भेलूपुर में किन्नरों के घर से 90 लाख रुपये के जेवरात की चोरी के मामले में भी वह गिरफ्तार हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:31 प्रेमिकाओं के लिए करता था चोरी