अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरुषि व नौकर की हत्या ऑपरेशन के उपकरणों से हुई

नोएडा में डॉक्टर दंपत्ति की बेटी आरुषि तलवार और नौकर हेमराज की गला रेत कर की गई हत्या में आपरेशन में उपयोग किए जाने वाले किसी धारदार औजार का प्रयोग किया गया था। इस बीच राज्य पुलिस इस मामले की जांच विशेष कार्रवाई दस्ते (एसटीएफ) को सौंपने की घोषणा की है। शव परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर नोएडा के पुलिस अधीक्षक महेश मिश्रा ने बताया कि दोनों की हत्या करीब-करीब एक ही समय की गई। उन्होंने रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि हेमराज ने शराब का सेवन नहीं किया था। मामले की जांच में लापरवाही बरतने के कारण नोएडा के सेक्टर 20 के थानाध्यक्ष को लाइन हाजिर कर दिया गया है। आरुषि की हत्या के एक दिन बाद नौकर हेमराज का शव तलवार परिवार के घर की छत पर पाए जाने के बाद से ही पुलिस को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके पहले नौकर को ही आरुषि का कातिल माना जा रहा था और पुलिस उसको पकड़ने का प्रयास कर रही थी।ड्ढr ड्ढr हेमराज का शव तब बरामद किया गया जब एक अवकाशप्राप्त पुलिस अधिकारी केके गौतम ने सीढ़ियों पर खून के निशान देखकर पुलिस से छत के दरवाजे का ताला तोड़ने को कहा। हेमराज का शव काफी खराब हालत में था।ड्ढr उधर, उत्तर प्रदेश के सहायक पुलिस महानिदेशक बृजलाल ने घोषणा की है कि दोहरे हत्याकांड की जांच एसटीएफ से कराई जाएगी। मामले की जांच अभी नोएडा पुलिस कर रही है। पंद्रह वर्षीय आरुषि दिल्ली पब्लिक स्कूल की कक्षाी छात्रा थी। उसका शव नोएडा के सेक्टर-25 स्थित जलवायु विहार के उसके घर एल-32 में शुक्रवार को पाया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरुषि की हत्या ऑपरेशन के उपकरणों से हुई