अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माओवादियों का रक्षा बजट 40 करोड़ का

भाकपा (माओवादी) का केंद्रीय स्तर पर रक्षा बजट 40 करोड़ रुपये का है। इतनी बड़ी राशि अस्त्र-शस्त्रों की खरीद, रख-रखाव और प्रशिक्षणों पर खर्च की जाती है। वर्तमान में संगठन के पास सभी तरह के आधुनिक हथियार उपलब्ध हैं। यह खुलासा भाकपा (माओवादी) पोलित ब्यूरो सदस्य प्रमोद मिश्रा ने किया है।ड्ढr संगठन के सबसे मजबूत आधारवाले राज्य झारखंड और छत्तीसगढ़ ही हैं। इन दोनों राज्यों में केंद्रीय संगठन का प्रशिक्षण केंद्र भी चलता है। लड़ाकुओं को यहां के जंगलों में प्रशिक्षण दिया जाता है और यहीं से मिलिट्री कमीशन की कार्रवाई की योजना तय होती है। इसके अलावा दिल्ली, राजस्थान, हिमाचल, पंजाब और हरियाणा में माओवादी संगठन का विस्तार किया जा रहा है। पांच दिनों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद रविवार को भाकपा (माओवादी) पोलित ब्यूरो सदस्य प्रमोद मिश्रा उर्फ बन बिहारी जी उर्फ बीबी को जेल भेज दिया गया।ड्ढr महेंद्र व सुनील की हत्या के खिलाफ थी केंद्रीय कमेटीड्ढr भाकपा (माओवादी) की केंद्रीय कमेटी माले विधायक महेंद्र सिंह और झामुमो सांसद सुनली महतो की हत्या के पक्ष में नहीं थी। लोकल कमेटी ने दोनों की हत्या के बाद केंद्रीय कमेटी को सूचना दी। बाद में केंद्रीय कमेटी ने हत्या के खिलाफ निंदा प्रस्ताव भी जारी किया था। यह जानकारी प्रमोद मिश्रा ने पुलिस को पूछताछ में दी ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: माओवादियों का रक्षा बजट 40 करोड़ का