अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रख्यात नाटककार विजय तेंदुलकर का देहांत

प्रख्यात मराठी नाटककार विजय तेंदुलकर का लंबी बीमारी के बाद सोमवार को निधन हो गया। वह 80 वर्ष के थे। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार उनका निधन सुबह करीब आठ बजे हुआ। वह लगभग दो महीने से अस्वस्थ्य थे। पद्मभूषण सम्मान से सम्मानित इस प्रसिद्ध साहित्यकार ने ‘घासीराम कोतवाल’, ‘सखाराम बाइंडर’ जसे बेहतरीन नाटकों का सृजन किया। इसके अलावा उन्होंने ‘मंथन’, ‘निशांत’, ‘आक्रोश’ और ‘अर्धसत्य’ जसी चर्चित फिल्मों की पटकथा भी लिखी। इन सभी को आलोचकों द्वारा बहुत सराहा गया। ‘मंथन’ के लिए तो उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी दिया गया। तेंदुलकर को ‘संगीत नाटक अकादमी सम्मान’ और जीवन भर की उपलब्धियों के लिए ‘संगीत नाटक अकादमी की फैलोशिप’ प्रदान की गई।ो

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रख्यात नाटककार विजय तेंदुलकर का देहांत