DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कचचच्चा तेल 127 डॉलर पर पहुंचा

तेल उत्पादक और निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) की कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने के लिए बैठक नहीं करने की घोषणा के बाद सोमवार को इसके दाम 127 डॉलर प्रति बैरेल से अधिक बोले गए। ओपेक देशों के अध्यक्ष चाकिब खलील ने कहा कि तेल बाजार में अच्छी आपूर्ति हो रही है। उन्होंने कहा कि बाजार में तेल की आपूर्ति को देखते हुए ओपेक की अगली बैठक इसकी निर्धारित तिथि सितंबर से पहले नहीं होगी। उन्होंने कहा कि बाजार में तेल बहुत है इसलिए तेल के दाम कम आपूर्ति नहीं बल्कि डॉलर के कमजोर रहने जैसे अन्य कारणों से बढ़ रहे हैं। अमेरिका में जून की डिलीवरी 1.16 डॉलर बढ़ने के साथ 127 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गई। शुक्रवार को तेल की कीमत 126.2डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुई, हालांकि दिन में यह127.82 डॉलर पर पहुंच गई थी। लंदन ब्रेंट क्रूड 67 सेंट बढ़कर 125.66 डॉलर पर पहुंच गया। आस्ट्रेलिया के राष्ट्रकुल बैंक के विश्लेषक डेविड मूर का कहना है कि अब तक बाजार डॉलर के कमजोर पड़ने और आपूर्ति कम रहने के कारण तेल महंगा था। उन्होंने कहा कि तेल उत्पादक और निर्यात देशों के संगठन ओपेक के उत्पादन नहीं बढ़ाने का असर भी बाजार पर देखने को मिला। हालांकि संगठन के सबसे छोटे सदस्य इक्वाडोर ने तेल की आपूर्ति बढ़ाने का सुझाव दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कचचच्चा तेल 127 डॉलर पर पहुंचा