अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बरसात पूर्व एनएच को ठीक करने की कवायद

राष्ट्रीय उच्च पथों की हालत ठीक करने की कोशिश तेज करने को कहा गया है। एनएच के चीफ इंजीनियर विष्णु राम ने एनएच 33, 31 और 100 पर चल रहे कार्यो का जायजा लेने के बाद बताया कि इंजीनियरों को आवश्यक निर्देश दिये गये हैं। एनएच 33 (बरही- बहरागोड़ा) और 23 (रामगढ़- धनबाद और रांची- गुमला- विरमित्रापुर) पर विभिन्न योजनाओं पर काम चल रहा है। एनएच 33 की हालत में हद तक सुधार है। हाल ही में चरही और हाारीबाग के पास काम पूरा हो गया है।ड्ढr नामकुम- बुंडू- तमाड़ के पास भी सूरत बदली है। बरसात से पहले सभी बड़े- छोटे गड्ढों को भर देने की तैयारी है, ताकि स्थिति बिगड़े नहीं। इस बरसात में ही एनएच के इंजीनियरों की परीक्षा होनेवाली है। दरअसल केंद्र अब झारखंड के मामले में नजरं इनायत किये हुए है। इधर एनएच 75 (रांची- डालटनगंज) मार्ग को ठीक करने के लिए छह योजनाओं पर करीब 14 करोड़ का टेंडर मांगा गया है। वैसे इन योजनाओं पर काम बरसात के बाद ही शुरू हो पायेगा। जून के अंत तक ही टेंडर की प्रक्रिया पूरी हो पायेगी।ड्ढr समय पर बिटुमिन नहीं मिलने के कारण भी काम का स्पीड बाधित हो रहा है। विभागीय सचिव इस परशानी को दूर करने में लगे हैं। जनवरी में विशेष पैकेा के रूप में स्वीकृत 85 करोड़ की योजनाओं पर ईमानदारी के साथ काम पूरा करने की चुनौती भी इंजीनियरों के सामने है। इधर, वार्षिक प्लान व नामकुम आरओबी को लेकर दिल्ली में उच्चस्तरीय बैठक होनी है। इसमें चीफ इंजीनियर और रांची के इइ शामिल होंगे। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बरसात पूर्व एनएच को ठीक करने की कवायद