DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाहरुचख हैं टीम के 12वें खिलाड़ी : गांगुली

ोलकाता के कप्तान सौरभ गांगुली ने सोमवार को कहा कि आईपीएल 20-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के मैचों के दौरान ड्रेसिंग रूम में टीम के मालिक शाहरुख खान की मौजूदगी से खिलाड़ियों का ध्यान भंग नहीं होता बल्कि उनका हौसला ही बढ़ता है। गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ने शाहरुख को मैचों के दौरान अपनी टीम के ड्रेसिंग रूम और डग आउट से दूर रहने की चेतावनी दी है। गांगुली ने आई सी सी की इस चेतावनी की आलोचना करते हुए एक निजी टेलीविजन चैनल से कहा कि शाहरुख की मौजूदगी से हमारा ध्यान भंग नहीं होता। इसके विपरित वह मैच में हमारे खिलाड़ियों का हौसला ही बढ़ाते हैं। उन्होंने कहा कि वह हमारी टीम में 12वें खिलाड़ी की तरह हैं। उनकी मौजूदगी से किसी तरह की बाधा पड़ने का सवाल ही नहीं उठता। इससे पहले शाहरुख ने कहा था कि आई सी सी के इस निर्देश से उन्हें बहुत निराशा हुई है। उन्होंने कहा कि अपने खिलाड़ियों से बातचीत करके उन्हें बहुत अच्छा लगता है और इसीलिए वह ड्रेसिंग रूम में जाते हैं।35 साल के गांगुली ने एक सवाल के जवाब में कहा कि आई पी एल ने साबित कर दिया है कि सीनियर खिलाड़ियों को 20-20 क्रिकेट के अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता। भारत के पूर्व कप्तान गांगुली ने कहा कि महत्व उम्र का नहीं बल्कि प्रदर्शन का होता है। छत्तीस साल के एडम गिलक्रिस्ट और 38 वर्ष के सनत जयसूर्या ने शतक जमा कर यह बात साबित की है।गांगुली ने स्वीकार किया कि किसी खिलाड़ी की महारत को टेस्ट क्रिकेट में ही परखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि आपका इम्तहान तो टेस्ट क्रिकेट में ही होता है। लेकिन 20-20 क्रिकेट लोकप्रिय हुआ है और भविष्य में इसकी लोकप्रियता और बढ़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शाहरुचख हैं टीम के 12वें खिलाड़ी : गांगुली