DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खंभा टूटने से अंधेरा पेड़ गिरने से रोड जाम

राजधानी और आसपास के इलाके में सोमवार को विद्युतापूर्ति व्यवस्था ध्वस्त हो गयी। दिन के 2.30 बजे आयी आंधी और बारिश से दर्जनों पेड़ टूट कर 33 और 11 हाार केवी तारों पर गिर गये। एक दर्जन से अधिक बिजली के खंभे भी टूट कर गिर गये। तार और बिजली खंभा के टूटते ही बिजली आपूर्ति ठप हो गयी। सबसे अधिक नुकसान कांके क्षेत्र में हुआ। रिनपास को छोड़ पूरा कांके इलाका रात भर अंधेर में रहने की संभावना है। हटिया ग्रिड से हरमू विद्युत सब स्टेशन के बीच 33 हाार क्षमता का तार और खंभा टूट गया। इससे हरमू और सेवा सदन विद्युत सब स्टेशन की बिजली आपूर्ति ठप हो गयी। 33 हाार तार की मरम्मत कर देर रात बिजली आपूर्ति बहाल की गयी। लालपुर फीडर, डोरंडा फीडर, अरगोड़ा फीडर सहित अन्य फीडरों से पांच से छह घंटे तक बिजली ठप रही। स्पीकर आवास, कचहरी रोड और पोलिटेक्िनक के पास लगा होर्डिगोार पर गिर गया। इससे विद्युतापूर्ति ठप हो गयी। बिरसा कृषि विवि के मुख्य गेट के पास पेड़ गिर गया। इससे बिजली का पोल टूट गया। यूनिवर्सिटी परिसर में चार पांच पेड़ तार पर ही गिर गये। हटिया स्टेशन के निकट एक सेमर का विशाल पेड़ गिर गया। इससे हटिया स्टेशन रोड एक घंटे तक आवागमन बाधित रहा। ड्ढr ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खंभा टूटने से अंधेरा पेड़ गिरने से रोड जाम