अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफसर दोषारोपण छोड़ कार्रवाई करं

मगध विश्वविद्यालय के सभी कर्मियों को भविष्य निधि, वेतन, बकाए राशि तथा पेंशन के भुगतान को लेकर सोमवार को पटना हाईकोर्ट में आला अधिकारियों का मेला लगा रहा। सोमवार को न्यायमूर्ति नवनीति प्रसाद सिंह की एकलपीठ के समक्ष राज्य के मुख्य सचिव, उच्च शिक्षा के सचिव, कुलाधिपति के ओ.एस.डी. सहित मगध विश्वविद्यालय के कुलपति तथा रािस्ट्रार हाजिर हुए। मानदेव प्रसाद साव की ओर से दायर रिट याचिका पर सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि एक दूसर पर दोषारोपण की कार्रवाई को छोड़कर कोई ठोस कार्रवाई के बार में काम आला अधिकारी करं। सभी अधिकारियों को मिल बैठकर एक दूसर से विचार विमर्श कर कैसे राशि का भुगतान हो उस बार में कंक्रीट प्लान लेकर अदालत में मंगलवार को आने की बात कही। साथ ही अदालत ने सभी आला अधिकारियों को मामले पर सुनवाई के दौरान उपस्थित रहने का निर्देश दिया।ड्ढr सरकार व मदरसा शिक्षा बोर्ड सेड्ढr जवाब तलब : गत मोलवी की परीक्षा में अरबी द्वितीय पत्र का प्रश्न पत्र लीक मामले में पटना हाईकोर्ट ने राज्य सरकार तथा बिहार राज्य मदरसा शिक्षा बोर्ड से जवाब-तलब किया है। सोमवार को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजेन्द्रमल लोढ़ा तथा न्यायमूर्ति चन्द्रमौली कुमार प्रसाद की खंडपीठ ने नसीम की ओर से दायर लोकहित याचिका पर सुनवाई के बाद यह आदेश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अफसर दोषारोपण छोड़ कार्रवाई करं