DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विजय जुलूस पर कसा प्रशासन का फंदा

प्रशासन का डंडा और कानून का फंदा के आगे दानापुर में किसी की नहीं चली। खुशी चुनाव जंग जीतने की और क्षहार दबी जुबान से। यह दृश्य सोमवार को छावनी क्षेत्र के सम्पन्न हुए वार्ड पार्षद के चुनाव में विजयी प्रत्याशी और उनके समर्थको पर साफ दिख रहा था। नहीं बाजा बजा, नही पटाख फुटा और नहीं निकला विजयी जुलूस। सभी पर प्रशासन का फंदा लटकने से समर्थकों के चेहरे फीका पड़ गया था। बैण्ड बाजा वाले, पटाखा वाले सभी राह देखत रह गए मगर कोइ्र्र नहीं आया। बताते चलें कि प्रशासन ने शाति व्यवस्था बनाने के उद्देश्य से बिजयी जुलुृस पर रोक लगा दिया था। जिससे ग्यारह वर्षो बाद हुए चुनाव की विजयी खुशी प्रत्याशी व्यक्त नहीं कर सके नहीं समर्थक । शराब की बोतल रखी रह गयी। बावजुद बिजयी वार्ड पार्षदों ने अपने-अपने वार्डो में धुमकर लोगों से आर्शिवाद लिये। इस दरमियान भी समर्थककों के बीच उत्साह खुशी खुलकर बयां नही करा पा रही थी। सभी तैयारी बेकार चली गई। उपाध्यक्ष के लिए जोड़-तोड़ शुरूड्ढr दानापुर (हि.प्र.)। छावनी परिषद निकाय चुनाव के परिणाम घोषित हो जाने के बाद विजयी प्रत्याशियों उपाध्यक्ष के दावेदारी के लिए जोड़-तोड़ शुरू कर दिया है। वही पूर्व उपाध्यक्ष नवल किशोर प्रसाद उर्फ मंटू की पत्नी उषा देवी बिजयी हुई है। जो उपाध्यक्ष की दावेदारी करने में जुट गयी है। वही निर्वाचित वार्ड पार्षद कमल कुमार गुप्ता उर्फ बंटी गुप्ता भी उपाध्यक्ष की दावेदारी के लिए प्रत्याशियों को समर्थन जुटने में जुट गये हैं। उपाध्यक्ष के सीट के लिए उषा देवी व कमल कुमार गुप्ता दावेदारी करने मेंजुट गये हैं और निर्वाचित वार्ड पार्षदों को अपने गुट में शामिल करने में जुट गये हैं। जिसके पास चार प्रत्याशिों का समर्थन मिल जाता है, तो उपाध्यक्ष की सीट पर कब्जा करने में कामयाब रहेगा। साथ ही खरीद बिक्री भी वार्ड पार्षदों को किया जा रहा है। 108 वाहनों का इस्तेमालड्ढr दानापुर (हि.प्र.)। छावनी परिषद निकाय के मात्र सात वार्डो का चुनाव में 108 वाहनों का प्रयोग किया गया है। इसको लेकर नगर में चर्चा का विषय बना हुआ है। चुनाव में 15 लाख खर्च किया गया। वहीं छावनी जानकार सूत्रों के मुताबिक छावनी परिषद निकाय चुनाव में रक्षा मंत्रालय ने 15 लाख चुनाव में खर्च करने के लिए राशि भेजी गई थी। सूत्रों ने बताया कि मात्र सात वार्डो के चुनाव के लिए 108 वाहनों के इस्तेमाल किये जाने पर सैन्य अधिकारी ने चिंता जतायी है। सूत्रों ने बताया कि चुनाव के काम पर राशि का बंदर बांट किया जा रहा है। वही इस बाबत छावनी अधिकारी व निर्वाचन पदाधिकारी उचित कोई जवाब नहीं दिया है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर