DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हजारीबाग में बारिश से चार चेकडैम बहे

48 घंटे की फुहार ने वन विभाग की कलई खोलकर रख दी है। इस बारिश में छह माह पहले पांच लाख से बनाये गए चार चेकडैम बह गए। मामला बड़कागांव के तरहेसा और हेवई का है। सभी चेकडैम पश्चिमी वन प्रमंडल अंतर्गत विभागीय स्तर से कराया गया था।

योजना वित्तीय वर्ष 2013-14 की है। ग्रामीणों के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2012-13 में ट्रेंच फेंसिंग के दौरान बचे बोल्डर को चेकडैम में लगाया था, जो घटिया था। मिप्ती-बोल्डर से घटिया तरीके से चेकडैम बनाये गए थे। इस बाबत पूछे जाने पर वनपाल तिलेश्वर रजक ने बताया कि यह योजना उनके कार्यकाल की नहीं है।

डीएफओ ने की पुष्टि
पश्चिमी वन प्रमंडल के डीएफओ डॉ आर. थांगा पांडय़न ने चेकडैम बह जाने की पुष्टि करते हुए कहा कि चारों चेकडैम मिप्ती-बोल्डर से बनाये गए थे। यह प्राकृतिक चेकडैम था, इसे सिर्फ मिप्ती-बोल्डर से बांध दिया गया था। लगातार बारिश होने के कारण यह बह गया। इसकी मरम्मत का निर्देश वन प्रक्षेत्र पदाधिकारी को दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हजारीबाग में बारिश से चार चेकडैम बहे