DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोलंबिया के सामने आसान नहीं ब्राजीली ‘सांबा’

कोलंबिया के सामने आसान नहीं ब्राजीली ‘सांबा’

देश के लिए छठी बार फीफा वर्ल्ड कप खिताब जीतने की अपेक्षाओं के भारी दबाव में घरेलू मैदान पर खेल रही युवा ब्राजीली टीम के लिए कोलंबिया की चुनौती कठिन साबित हो सकती है। शुक्रवार को दोनों टीम फोर्टलेजा के कास्टेलाओ एरिना में क्वार्टर फाइनल की जंग में जीतने उतरेंगी।

मुश्किलों में रहा है ब्राजील
ब्राजील की टूर्नामेंट में मुश्किल शुरुआत रही है और उसे दो मैच बराबर खेलने पड़े। यहां तक चिली के खिलाफ अंतिम-16 के मुकाबले में वह बमुश्किल पेनल्टी शूटआउट में जीत पाया, जबकि इससे पहले लीग चरण में मैक्सिको ने उसे गोलरहित बराबरी पर रोका था। वह अभी तक केवल क्रोएशिया और कैमरून के खिलाफ ही प्रभावशाली जीत दर्ज कर पाया। ब्राजील के रक्षकों के लिए कोलंबिया के अग्रिम पंक्ति पर अंकुश लगाना बड़ी चुनौती होगी।

कोलंबिया का प्रभावी सफर
वर्ल्ड कप का ‘सरप्राइज पैकेज’ बनकर उभरी कोलंबिया ने अभी तक अपने चारों मैच जीते हैं। उसने यूनान, आइवरी कोस्ट और जापान को आसानी से, जबकि अंतिम-16 में दक्षिण अमेरिका की एक अन्य मजबूत टीम उरुग्वे को 2-0 से हराया।

रोड्रिगेज-नेमार की जंग
यहां दुनिया के दो युवा स्ट्राइकरों रोड्रिगेज और नेमार के बीच रोचक जंग देखने को मिलेगी। कोलंबिया के जेम्स रोड्रिगेज अब तक उसकी सभी जीत में नायक बनकर उबरे हैं। इस 22 वर्षीय स्ट्राइकर ने पांच गोल दागे हैं और वह गोल्डन बूट की दौड़ में सबसे आगे हैं। नेमार ने अभी तक चार गोल दागे हैं।  

नेमार को जीत का यकीन
चोट से उबरकर मैच में खेलने के लिए पूरी तरह से फिट नेमार ने कहा, आप हमेशा अपने खेल का लुत्फ उठाकर 4-0 या 5-0 से नहीं जीत सकते।

उन्होंने कहा, आजकल फुटबॉल काफी कड़ा हो गया है। इसलिए जो भी टीम मैदान पर अधिक प्रतिबद्ध होकर खेलेगी वही जीत दर्ज करेगी। हम यहां दर्शकों के मनोरंजन के लिए नहीं हैं। हम यहां विजेता बनने के लिए खड़े हैं। उन्होंने कहा कि चिली और कोलंबिया एक जैसी टीमें हैं। यह एक और जंग होगी। हमें शुरू से ही बेहतर खेल दिखाना होगा। उम्मीद है कि हमें इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

रोड्रिगेज भी हैं तैयार
रोड्रिगेज भी नेमार की तरह जीत के लिए कुछ भी करने को प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा, हम खुश हैं क्योंकि हम इतिहास बना रहे हैं। हम अब अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहते हैं क्योंकि यह टीम वास्तव में जीतना चाहती है।

गुस्तावो का न होने से चिंता
लुइस गुस्तावो के नहीं खेल पाने से कोच स्कोलारी को चिंता अवश्य होगी। गुस्तावो इस टीम में वही भूमिका निभा रहे हैं, जो स्कोलारी की 2002 की चैंपियन ब्राजीली टीम में गिलबर्टो सिल्वा ने निभाई थी। गुस्तावो को पिछले मैच में दूसरा पीला कार्ड मिला था, जिसके कारण वह इस मैच में नहीं खेल पाएंगे। गुस्तावो की जगह मिडफील्डर पॉलिन्हो को टीम में रखा जा सकता है।

दोनों की कुछ खास भिड़ंत

1957 के कोपा अमेरिका कप में ब्राजील ने कोलंबिया को 9-0 से हराया
रियो डि जनेरियो में 1969 में भी ब्राजील ने 6-2 से हासिल की थी जीत
1977 में रियो में ही कोलंबिया को ब्राजील ने 6-0 से हराया

आंकड़ों में भिड़ंत
25 मैच खेले हैं दोनों टीमों ने एक-दूसरे के खिलाफ
15 बार जीत से ब्राजील का पलड़ा भारी रहा है, जबकि कोलंबिया दो बार ही रहा है विजेता
04 मैच आखिरी बार आपस में खेलते हुए दोनों देशों ने ड्रॉ पर खत्म किया है परिणाम
2012 के 14 नवंबर को न्यूयॉर्क में हुए मैत्री मैच में भी 1-1 से ड्रॉ रही थी आखिरी भिड़ंत
66 गोल हुए हैं अभी तक ब्राजील-कोलंबिया के बीच मुकाबलों में
55 गोल किए हैं ब्राजीली टीम ने कोलंबिया के 11 गोल के मुकाबले
11 गोल किए हैं कोलंबिया ने इस वर्ल्ड कप में और खाए हैं सिर्फ दो
1991 के कोपा अमेरिका कप में आखिरी बार कोलंबिया ने ब्राजील को हराया था
06  बार लगातार ब्राजील वर्ल्ड कप क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोलंबिया के सामने आसान नहीं ब्राजीली ‘सांबा’