DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुधा बूथ से आलू-प्याज की बिक्री कराएं: नंदकिशोर

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। नेता प्रतिपक्ष नंदकिशोर यादव ने गुरुवार को कहा कि लोगों को महंगाई से राहत को ध्यान में रख राज्य सरकार सुधा के बूथों से आलू और प्याज की बिक्री कराए। जमाखोरों के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू होनी चाहिए क्योंकि आलू और प्याज की किल्लत कृत्रिम है। श्री यादव विधानसभा स्थित अपने कक्ष में संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपने स्तर से यह लिमिट तय करे कि आलू और प्याज के स्टाक की मात्रा क्या होनी चाहिए। स्थिति यह है कि थोक बाजार की तुलना में आलू और प्याज की कीमत खुदरा में काफी अधिक है। इसे नियंत्रित करने की आवश्यकता है। श्री यादव ने कहा कि केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को जमाखोरी पर अंकुश लगाने को निर्देश भेजा है। उन निर्देशों पर कार्रवाई होनी चाहिए। वहीं खाद्य सुरक्षा अधिनियम पर नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि राज्य सरकार ने चुनाव में फायदे को ध्यान में रख बिहार में फरवरी से खाद्य सुरक्षा योजना को लागू कर दिया।

जब इस बाबत तैयारी ही नहीं थी तो फिर खाद्य सुरक्षा योजना शुरू करने का कोई औचित्य ही नहीं था। इससे एक समस्या यह हुई कि बीपीएल के लोगों को मिलने वाला अनाज भी बंद हो गया, क्योंकि उनके पास नया कार्ड ही नहीं पहुंच पाया। पांच महीने से गरीबों को राशन का अनाज नहीं मिला है। इसके लिए पूरी तरह राज्य सरकार जवाबदेह है।

बीपीएल में शामिल लोगों के कार्ड को निरस्त नहीं करना चाहिए था। जब यूपीए की सरकार ने खाद्य सुरक्षा योजना के तहत बिहार को समय पर अनाज का रैक उपलब्ध नहीं कराया तो फिर सरकार ने कांग्रेस से दोस्ती क्यों कर ली?।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुधा बूथ से आलू-प्याज की बिक्री कराएं: नंदकिशोर