DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली दर बढ़ाने के प्रस्ताव पर 9 जुलाई को सुनवाई

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। बिजली दर बढ़ाने के प्रस्ताव पर बिहार विद्युत विनियामक आयोग नौ जुलाई को सुनवाई करेगा। आयोग कार्यालय में होने वाली इस सुनवाई में औद्योगिक व बिजली के क्षेत्र में काम करने वाले गैर सरकारी संगठनों को आमंत्रित किया गया है। डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों ने आयोग से 193 करोड़ की भरपाई के लिए टैरिफ बढ़ाने का अनुरोध किया है।

कंपनियों की याचिका पर अगर आयोग टैरिफ में वृद्धि करता है, तो राज्य के 43 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को 15-20 पैसे प्रति यूनिट तक बोझ सहना पड़ेगा। नार्थ व साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने आयोग के समक्ष टैरिफ की समीक्षा के लिए पहली बार याचिका दायर की है।

साउथ बिहार का तर्क है कि आयोग के गलत आकलन के कारण उसे वित्तीय वर्ष 2013-14 में 115 करोड़ का नुकसान हुआ। इसमें सिक्यूरिटी मनी के ब्याज पर 15.99 करोड़, वर्किंग कैपिटल मद में 34.98 करोड़ और पावरग्रिड कंपनी की ओर से किए गए ट्रांसमशिन चार्ज 63.83 करोड़ शामिल हैं।

नार्थ बिहार ने 77.73 करोड़ नुकसान का दावा किया है। इसमें सिक्यूरिटी मनी के मद में 8.51 करोड़, वर्किंग कैपिटल मद में 22.82 करोड़ और ट्रांसमशिन चार्ज के रूप में 46.40 करोड़ शामिल हैं। कंपनियों ने यह भी कहा है कि सरकार की ओर से मिले अनुदान में दो महीने का गलत आकलन किया गया है। नहीं बढ़ी थी टैरिफ वित्तीय वर्ष 2013-14 में बिहार विद्युत विनियामक आयोग ने टैरिफ में वृद्धि नहीं की थी। इसमें एटीएंडसी लॉस (एग्रीगेट टेक्निकल एंड कॉमर्शियल लॉस) को बड़ा कारण बताया था।

लॉस 21 फीसदी का टारगेट था, जबकि नार्थ बिहार में 37 फीसदी तो साउथ बिहार में 48 फीसदी एटीएंडसी लॉस है। कोटडिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों की याचिका पर नौ जुलाई को सुनवाई होगी। सुनवाई के एक-दो सप्ताह के बाद टैरिफ बढ़ाने को लेकर निर्णय ले लिया जाएगा। -उमेश नारायण पंजियार, अध्यक्ष, बिहार विद्युत विनियामक आयोग। इन्हें किया गया है आमंत्रितबिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स, बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, बिहार स्टील मैन्यूफैक्चर्स एसोसिएशन, बालमुकुंद कॉनकॉस्ट लिमिटेड, इस्टर्न बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन भागलपुर, वैशाली विद्युत संघर्ष मोर्चा, महंगी बिजली विरोधी संघर्ष मोर्चा, कल्याणपुर सीमेंट लिमिटेड, विद्युत उपभोक्ता संघर्ष मोर्चा गया सहित बिजली को लेकर काम करने वाले गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि व कुछ रिटायर्ड इंजीनियर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली दर बढ़ाने के प्रस्ताव पर 9 जुलाई को सुनवाई