DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिजली नहीं सुधरी तो काम छोड़ गए कंपनी के सीईओ

भागलपुर। तरुण कुमार। फ्रेंचाइजी बिजली कंपनी बीईडीसीपीएल के डवांडोल प्रबंधन के कारण नए सीईओ डॉ. विजय कुमार सोनावणे ने भी कंपनी को बाय-बाय कर दिया। बीईडीसीपीएल ने एक जनवरी से भागलपुर में बिजली आपूर्ति का काम संभाला है और अब तक उसके तीन सीईओ काम छोड़ चुके हैं।

काम छोड़ने की बाबत जब सोनावणे से बात की गई तो उन्होंने कहा कि अभी वह छुट्टी पर जा रहे हैं। कब तक छुट्टी पर रहेंगे इस पर उन्होंने कुछ भी स्पष्ट नहीं किया। डॉ. सोनावणे लगभग डेढ़ माह पहले ही भागलपुर में पद भार संभाला था। वे बीईडीसीपीएल के तीसरे सीईओ हैं जिन्होंने प्रबंधन के रवैये की वजह से काम छोड़ा। सबसे पहले अमानुल्लाह ने प्रबंधन के रवैये से नाराज होकर काम छोड़ दिया था। इसके बाद सुबीर कुमार दास कंपनी के सीईओ बनाये गए।

उन्होंने भी एक माह पूर्व काम छोड़ दिया। बताया जाता है कि सुबीर भी संसाधन उपलब्ध नहीं कराने की वजह से काम छोड़ दिए। सोनावणे के नजदीकी सूत्रों की मानें तो उनका कहना था कि मालिक खुद ही डायरेक्टर हैं, लेकिन वो यहां रहते नहीं। हर बात पर पब्लिक को जवाब देना पड़ता है। कंपनी के मालिक संसाधन को दुरुस्त करने और व्यवस्था में सुधार के लिए गंभीर नहीं हैं। सूत्रों के अनुसार डॉ सोनावणे गुरुवार की सुबह अपना पूरा सामान लेकर भागलपुर से चले गए।

बुधवार की रात एक होटल में उन्हें फेयरवेल भी दिया गया। सीईओ के काम छोड़कर जाने की बाबत कंपनी का कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। सभी इस बारे में अनभिज्ञता जाहिर कर रहे हैं। कंपनी की पीआरओ रानी चौबे ने कहा कि डॉ सोनावणे अभी छुट्टी में हैं। कंपनी के सीओओ अमित गुप्ता ने कहा कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं। सुविधाओं पर नहीं सिर्फ आमदनी पर है सेठी की नजर बीईडीसीपीएल के मालिक हर्षवर्धन सेठी कंपनी के डायरेक्टर भी हैं।

लेकिन वह भागलपुर में रहते नहीं हैं। महीने-दो महीने में कभी आते भी हैं तो एक-दो दिनों में अधिकारियों से मुलाकात कर चले जाते हैं। भागलपुर में बिजली आपूर्ति की बुनियादी आवश्यकताओं पर उन्होंने कभी ध्यान नहीं दिया। कंपनी के कर्मचारियों की मानें तो वे जब भी भागलपुर आए तो सिर्फ आमदनी बढ़ाने की बात की। संसाधनों के बारे में वह सिर्फ अधिकारियों से रिपोर्ट ही लेते रहे और यह आश्वासन देते रहे कि रेवेन्यू बढ़ने पर कुछ काम किया जाएगा।

सेठी से जब भागलपुर की बिजली आपूर्ति व्यवस्था पर बात करने की कोशशि की गई तो वह फोन पर उपलब्ध नहीं हुए। उनकी सेकेट्री ने बताया कि सेठी अभी व्यस्त हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिजली नहीं सुधरी तो काम छोड़ गए कंपनी के सीईओ