DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस शराब की भट्ठी नहीं तोड़ पाई

कुरावली, हिन्दुस्तान संवाद। गुरुवार को थाना क्षेत्र के ग्राम अलूपुरा में शराब की भट्ठियां तोड़ने गयी पुलिस से शराब कारोबारियों की भिड़ंत हो गयी। शराब नष्ट करने के दौरान कारोबारी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने उच्चाधिकारियों रशि्ते की बात कहकर शराब नष्ट न करने का दबाव बनाया। जब पुलिस नहीं मानी तो कारोबारियों ने एक उच्चाधिकारी को फोन कर दिया।

उच्चाधिकारी का फोन दरोगा के पास आ गया और दरोगा को कार्रवाई अधूरी छोड़कर वापस आना पड़ा। गुरुवार को कोतवाली के दरोगा रामवीर सिंह दो सिपाहियों और एक होमगार्ड को लेकर अलूपुरा गांव पहुंचे थे। जहां नदी के किनारे बन रही शराब की भट्ठियों को तोड़ना शुरू कर दिया गया। पुलिस ने शराब नष्ट करनी शुरू की तभी अलूपुरा के कुछ लोग मौके पर आ गए और उन्होंने कार्रवाई का विरोध शुरू कर दिया। पुलिस ने काम जारी रखा तो कारोबारियों ने फोन से अधिकारियों को सूचना दी।

तभी एक अधिकारी का फोन दरोगा के मोबाइल पर आया और दरोगा मजबूरन कार्रवाई को अधूरा छोड़कर वापस लौट गया। गुरुवार को इस घटना की जानकारी आसपास के लोगों को हुयी तो लोग हैरान रह गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पुलिस शराब की भट्ठी नहीं तोड़ पाई