DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एशियाड मेजबानी के लिए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा आईओए ने

भारत की 2019 एशियाई खेलों की मेजबानी की बोली लगाने की उम्मीद बरकरार रखने के आखिरी प्रयास में भारतीय ओलंपिक संघ ने सरकार से सहयोग के लिये आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ जरूरी बैठक की मांग की।

आईओए महासचिव राजीव मेहता ने कहा कि केवल प्रधानमंत्री ही भारत को इस स्थिति से बचा सकते हैं। एशियाई ओलंपिक परिषद (ओसीए) ने बोली के अंतिम दस्तावेजों को सौंपने के लिए केवल दो दिन की समयसीमा बढ़ाई है। बोली दस्तावेज सौंपने की आखिरी तिथि एक जुलाई थी। आईओए ने समयसीमा 15 दिन बढ़ाने का आग्रह किया था जिसे ओसीए ने नामंजूर कर दिया। मेहता ने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री से मुलाकात के लिए आज प्रधानमंत्री कार्यालय को मेल भेजा। हम बोली लगा पाएंगे या नहीं यह अब सब कुछ उन पर निर्भर करता है।

ओसीए ने दस्तावेजों को सौंपने के लिए कल तक का समय दिया है और यह देखना होगा कि प्रधानमंत्री आईओए के शीर्ष अधिकारियों को मुलाकात का समय देते हैं या नहीं। प्रधानमंत्री एक दिन के दौरे पर जम्मू एवं कश्मीर जा रहे हैं। मेहता ने स्वीकार किया कि अंतिम बोली दस्तावेजों को सौंपने में देर हो गयी है। उन्होंने कहा, मैंने जो करना था वह किया और बोली दस्तावेज सौंपने देर हो गई। अब हम कुछ नहीं कर सकते। यदि प्रधानमंत्री अगले दो दिन में हमें समय दे देते हैं और मेजबानी के लिए हरी झंडी दिखा देते हैं तो मेजबानी का हमारा दावा फिर से जीवंत हो जाएगा।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एशियाड मेजबानी के लिए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा आईओए ने