DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रचंड ने सम्राट अशोक से की अपनी तुलना

हाल ही मं हुए संविधान सभा क चुनावों मं सबस बड़ दल क रूप मं उभर नपाली माओवादियों क नता पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड न महान भारतीय सम्राट अशोक स अपनी तुलना की है। अशोक बाद मं बौद्ध धर्म क उपासक बन गए थे। भगवान बुद्ध क 2,552 जन्मदिवस पर उनकी जन्म स्थली लुंबनी मं हुई एक शांति बैठक मं प्रचंड न कहा कि यहां पहली बार आकर उन्हं महान सम्राट अशोक जसा महसूस हो रहा है, जो कभी युद्धप्रिय थे लकिन एक युद्ध क दौरान हुई मौतों न उन्हं इसकी व्यर्थता का अहसास करा दिया था। उन्होंन कहा कि शांति क दूत गौतमबुद्ध क जन्म स्थान पर आकर वह भी अशोक जसा महसूस कर रह हैं। प्रचंड न कहा, ‘मुझ लगता है हथियारों की कोई आवश्यकता नहीं है।’ उन्होंन कहा, ‘हमारी पार्टी बहुत ही शांतिप्रिय पार्टी है। लगभग 2,500 साल पहल बुद्ध न शांति का संदश फैलाया था। अब नपाल मं एक बार फिर शांति का संदश फैलाया जाएगा।’ प्रचंड किसी धर्म को नहीं मानते, लकिन सभी धर्मो मं आस्था है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रचंड ने सम्राट अशोक से की अपनी तुलना