DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुनंदा मामले की जांच में सामने आए पूरा सच: शशि थरूर

सुनंदा मामले की जांच में सामने आए पूरा सच: शशि थरूर

पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की रहस्यमय मौत का मामला एक बार फिर गरमा गया है। एम्स के फोरेंसिंक विभाग के प्रमुख डॉ. सुधीर गुप्ता ने आरोप लगाए थे कि उन पर सुनंदा पुष्कर की गलत पोस्टमार्टम रिपोर्ट बनाने का दबाव डाला गया था। इस पर बुधवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने एम्स से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी है। वहीं एम्स ने अपने इस डॉक्टर के दावों को बेबुनियाद करार दिया।

पत्नी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट बदलने के लिए दबाव के डॉक्टर के आरोप के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने मामले की जांच जल्द खत्म करने की अपील की है। शशि थरूर ने फेसबुक के जरिये कहा, 'सुनंदा को खोने के बाद से ही मैंने मामले की गहन जांच का आग्रह किया है। पुष्कर परिवार की भी यही राय है और हमने संबंधित अधिकारियों के साथ पूरा सहयोग किया है। मैं एक बार फिर इस लंबी चौड़ी जांच को जल्द नतीजे पर पहुंचाने का आग्रह करता हूं, ताकि इस मामले से जुड़ी सभी अटकलें थम जाएं।'

दो पूर्व मंत्रियों पर मामला रफा-दफा करने के आरोप: सुनंदा पुष्कर नवंबर-2013 में दिल्ली के एक होटल में रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत मिली थीं। डॉ. सुधीर गुप्ता उनका पोस्टमार्टम करने वाली टीम के प्रमुख थे। उन्होंने आरोप लगाए हैं कि पिछली सरकार के दो मंत्रियों ने मामले को रफा-दफा करने और गलत पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देने के लिए उन पर दबाव डाला था। उन्होंने ऐसा नहीं किया इसलिए उन्हें पद से हटाने की कवायद शुरू की गई।

आरोपों पर हर्षवर्धन ने मांगी विस्तृत रिपोर्ट : स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हषर्वर्धन ने कहा कि मेरे मंत्री बनने के बाद डॉ. गुप्ता ने मेरे विभाग को अपनी पदोन्नति से जुड़े विवाद के बारे में लिखा था। उनके द्वारा लगाए गए आरोपों के चलते हमने एम्स के निदेशक से इस संदर्भ में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

एम्स ने किया अपना बचाव: मुद्दा गरमाने पर बुधवार को एम्स प्रवक्ता अमित गुप्ता और नीरजा भटला ने  डॉ. गुप्ता के दावे को खारिज कर अपना बचाव किया। कहा, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में छेड़छाड़ के लिए एम्स प्रशासन ने कोई दबाव नहीं बनाया। बाहरी दबाव के बारे में नहीं कह सकते। उनपर किसका दबाव था, क्यों था, पुलिस इसकी जांच करेगी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट
-मौत आकस्मिक और आप्राकृतिक
-हाथों पर चोट के एक दर्जन निशान
-गाल पर भी खरोंच के निशान मिले
-शरीर में दवाई की ओवरडोज मिली
-एक हाथ पर दांत से काटे के निशान

गुप्ता-थरूर से पूछताछ संभव
डॉ. गुप्ता के आरोपों के बाद दिल्ली पुलिस आयुक्त बीएस बस्सी ने कहा जरूरत पड़ी तो सुधीर गुप्ता और शशि थरूर से पूछताछ की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुनंदा मामले की जांच में सामने आए पूरा सच: शशि थरूर