DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांठ में व्यापारियों ने तेरहवीं कर सपा नेताओं के खिलाफ

कांठ/मुरादाबाद। बुधवार को गुस्साए व्यापारियों ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और नगर विकास मंत्री आजम खां की आरष्टी कर गुस्से का इजहार किया। आरष्टी के दौरान बाकायदा व्यापारियों ने लोगों को आरष्टी भोज का निमंत्रण दिया। इस भोज में बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया।

नया गांव चेदरी अकबरपुर के दलित मंदिर से हटाया गया लाउडस्पीकर अब तक न लगवाए जाने से यहां के व्यापारियों में नाराजगी बरकरार है। मंगलवार को बड़ी संख्या में व्यापारियों ने दोनों नेताओं का पुतला दहन कर अपने गुस्से का इजहार किया था। बुधवार को जिस प्रकार व्यक्ति की मृत्यु के उपरांत तीजा, दसवां और तेरहवीं की जाती है, उसी प्रकार व्यापारियों ने मुख्य बाजार स्थित वैश्य धर्मशाला में मुख्यमंत्री और नगर विकास मंत्री की आरष्टी भोज का आयोजन किया।

इस दौरान बड़ी संख्या में व्यापारी वैश्य धर्मशाला में पहुंचे और भोज में हिस्सा लिया। फोटो नंबर:3: मुख्य बाजार स्थित वैश्य धर्मशाला में आरष्टी भोज में शामिल लोग : बैठक कर एकजुटता पर दिया बल गांव महमूदपुर माफी में हिन्दू समुदाय के सैकड़ो लोगों ने बुधवार को बैठक की। संत रविदास धर्मशाला परिसर में आयोजित बैठक में एकजुटता पर बल दिया गया। बैठक में शामिल लोगों ने एक स्वर में प्रशासन पर एकपक्षीय कार्रवाई का आरोप लगाया। इसकी जमकर निंदा की।

लोगों का कहना था कि प्रशासन की लापरवाही से उस कांठ में जहां आज तक किसी भी प्रकार की कोई अप्रिय घटना नहीं घटी, वहां का माहौल तनावपूर्ण बना दिया गया है। लोगों ने लापरवाह प्रशासनिक अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की गई। बैठक में एकत्र लोगों ने अविलंब दलित मंदिर पर लाउडस्पीकर लगाए जाने की मांग भी की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांठ में व्यापारियों ने तेरहवीं कर सपा नेताओं के खिलाफ