DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस के साथ पुत्रवधु को उठा ले गए परिजन

चन्दौसी। हिन्दुस्तान संवाद। कोतवाली क्षेत्र के गांव असालतपुर जारई निवासी जगपाल पुत्र बुद्धि ने कोतवाली प्रभारी को प्रार्थना पत्र सौंपा है। जिसमें उसने बताया कि एक जुलाई को उसके घर पर बदायूं निवासी उसकी पुत्रवधु के परिजन आये। उनके साथ आधा दर्जन पुलिस वाले भी थे। जो जबरन मुझे, मेरी पत्नी और पुत्रवधु को जबरन उठा ले गए। पुलिस वालों ने हम तीनों को पीटा और बाद में दस हजार रुपए लेकर मुझे छोड़ दिया। मुझे डर है कहीं वह लोग उसकी पत्नी व पुत्रवधु को न मार डाले।

क्योंकि वह लोग पुत्रवधु की शादी कहीं और करना चाहते हैं, लेकिन लड़की ने उसके बेटे से शादी कर ली। तभी से पुत्रवधु के परिजन उसके परिवार से रंजीश मानते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस के साथ पुत्रवधु को उठा ले गए परिजन