DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापारियों के हंगामे के बाद सक्रिय हुआ बिजली विभाग

पलियाकलां-खीरी। बिजली विभाग द्वारा पूरे जिले में चालू किए गए लोड चेकिंग अभियान के विरोध में व्यापारियों के खड़े होने के बाद स्थानीय अधिकारी सक्रिय हो गए हैं। अभियान से पहले टीम व व्यापार मंडल की संयुक्त बैठक पर निर्णय के लिए एसडीओ ने उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट प्रेषित कर दी है। उधर व्यापारियों ने साफ कर दिया है कि जब तक कोई बेहतर रास्ता नहीं निकलता है वे शहर में चेकिंग शुरू नहीं होने देंगे।

व्यापारियों के कड़े रूख से माहौल गर्माने के आसार बनते जा रहे हैं। बताते चलें कि मंगलवार को व्यापार मंडल ने तहसील में जमकर हंगामा काटा था। वे जिले में विजिलेंस टीम द्वारा घर-घर जाकर की जा रही बिजल कनेक्शनों की जांच के तरीकों के विरोध में थे। उनका कहना था कि इस तरह से घर-घर जाकर चेकिंग करना गलत है। इससे प्राइवेसी को खतरा है। उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुए अन्य कई समस्याओं का भी व्यापारियों ने जिक्र किया था।

मौके पर ही एसडीओ विद्युत बीके अवस्थी को एसडीएम ने निर्देश दिए थे कि वे इस संबंध में कार्रवाई करें। व्यापार मंडल का कहना था कि चेकिंग से पहले टीम और व्यापारियों की एक संयुक्त बैठक होनी चाहिए। ताकि वे टीम के सामने अपनी बात को रख सकें। व्यापारियों का एतराज इस बात को भी लेकर था कि अगर यह औचक चेकिंग अभियान है तो इसका प्रचार प्रसार क्यों किया जा रहा है। मौके पर ही एसडीओ ने व्यापारियों को आश्वासन दिया था कि वे इस बारे में जरूर कुछ करेंगे।

बुधवार तक कोई टीम हाईडिल नहीं पहुंचे। जबकि व्यापारियों ऐलान कर दिया कि बिना बैठक और आम सहमति के चेकिंग कतई नहीं होने दी जाएगी। विद्युत उपखंड अधिकारी वीके अवस्थी ने बताया कि लोड चेकिंग अभियान की पूरी तैयारी है। अभी उन्हें भी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि किस दिन शहर में टीम अभियान चलाएगी। रही बात तक व्यापार मंडल की मांगों की तो जैसा कि उपजिलाधिकारी ने कहा था कि एक संयुक्त बैठक बुलाकर निर्णय लिया जाए, तो उसे लिए रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी गई है।

अब वहां से जो भी निर्णय होगा उसके बारे में व्यापारियों को अवगत करा दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यापारियों के हंगामे के बाद सक्रिय हुआ बिजली विभाग