DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार ने लगाई चयन बोर्ड अध्यक्ष की मनमानी पर लगाम

विशेष संवाददाता/ राज्य मुख्यालय। इलाहाबाद में माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के अध्यक्ष आशाराम यादव द्वारा मनमाने तरीके से प्रधानाचार्यो का किया जा रहा चयन रोक दिया गया है। सरकार जल्द से जल्द बोर्ड अध्यक्ष पद पर नई तैनाती करेगी। यह घोषणा माध्यमिक शिक्षा मंत्री महबूब अली ने बुधवार को विधान परिषद में शून्य प्रहर के दौरान की।

नेता सदन अहसन हसन ने मंगलवार को माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड इलाहाबाद में कार्यकारी अध्यक्ष द्वारा मनमाने ढंग से भर्ती प्रक्रिया को जारी रखने का मामला उठाए जाने पर भरोसा दिलाया था कि वह सदन को बुधवार को पूरे मामले से अवगत कराएंगे। शिक्षक दल के नेताओं ने मंगलवार को कार्यस्थगन की सूचना के जरिये सभापति से कहा था कि बोर्ड ने प्रधानाचार्यो के लिए साक्षात्कार 14 जुलाई से फिर शुरू करने का फैसला किया है। विधान परिषद में शून्य प्रहर के दौरान माध्यमिक शिक्षा मंत्री महबूब अली ने घोषणा करते हुए कहा कि बोर्ड में कोई भी प्रक्रिया जारी नहीं है।

सरकार ने बोर्ड द्वारा की जा रही सभी भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगा दी है। जब तक पूरी तरह पारदर्शी व्यवस्था नहीं हो जाती भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह रुकी रहेगी। इस पर शिक्षक दल के नेता ओम प्रकाश शर्मा ने कहा कि बोर्ड में लेन-देन जारी है। पैसा मांगा जा रहा है। पहले उसे रोका जाना चाहिए। भाजपा के यज्ञदत्त शर्मा ने मंत्री की घोषणा का विरोध करते हुए कहा कि उनकी सुनशि्चित जानकारी है कि प्रक्रिया 14 जुलाई से शुरू होगी।

इस पर मंत्री ने कहा कि सदस्य सदन को भ्रमित कर रहे हैं। ऐसा कतई नहीं है। उन्होंने कहा कि उपसचवि तैनात कर दिए गए हैं। सचवि के पद पर वरिष्ठ पीसीएस अफसर पर जल्द तैनाती होगी। साथ ही मानकों के अनुसार बोर्ड के नए अध्यक्ष की भी नियुक्ति की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरकार ने लगाई चयन बोर्ड अध्यक्ष की मनमानी पर लगाम